January 22, 2022

Naugachia News

THE SOUL OF THE CITY

नवगछिया में गेटमैन ने नहीं खोला रेलवे फाटक तो बदमाशों ने मार दी गोली, मौत

नवगछिया : कटिहार बरौनी रेल खंड के नवगछिया और कटरिया स्टेशन के बीच भवानीपुर गांव के पास 10 सी नंबर गुमटी (समपार) पर कार्यरत गेट मैन भागलपुर जिले के सबौर के आर्य टोला निवासी मुकेश कुमार मंडल (35) की अपराधियों ने शुक्रवार और शनिवार की दरम्यानी रात को गोली मारकर हत्या कर दी है. शनिवार की सुबह रेलवे समपार केबिन के पास से मुकेश का शव पुलिस ने बरामद किया है.

अपराधियों ने मुकेश के सीने में एक गोली मारी है. घटना की सूचना पर पहुंचे रेल थानाध्यक्ष प्रमोद सिंह और रंगरा थाना के थाना अध्यक्ष माहताब खान ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की है. जबकि घटना की प्राथमिकी नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में मृतक के भाई रविकांत कुमार द्वारा दिए गए बयान के आधार पर रंगरा थाने में दर्ज की गई है.

शनिवार दोपहर तक मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया गया था. रेल अधिकारियों और मृतक के सहकर्मियों से जानकारी मिली है कि देर रात से ही मुकेश ने रेलगाड़ी के परिचालन के मद्देनजर दी जा रही सूचना का रिस्पांस देना बंद कर दिया था और मोबाइल भी रिसीव नहीं कर रहा था. जिसके बाद रेल अधिकारियों ने 10 नंबर गुमटी पर ही सुबह के शिप्ट में कार्यरत कर्मी विकास कुमार को फोन किया.

विकास घटना के वक्त घर पर था. विकास ने फोन करके एक स्थानीय लड़के नीतीश कुमार को समपार के पास भेजा तो जानकारी मिली की मुकेश की किसी ने हत्या कर दी है. फिर मामले की सूचना सीनियर सेक्शन इंजीनियर सुदीन प्रसाद सिंह को दी गई. फिर सुदीन प्रसाद सिंह ने घटना की सूचना मृतक मुकेश के परिजनों और पुलिस को दी. परिजनों के साथ-साथ पुलिस को भी इस बात की आशंका है कि रेलवे समपार फाटक खोलने को लेकर हुए विवाद में अज्ञात अपराधियों ने मुकेश की गोली मारकर हत्या कर दी होगी.

इधर ग्रामीण सूत्र बताते हैं कि देर रात दो मोटरसाइकिल पर सवार चार लड़के फाटक उठाने के लिए काफी हल्ला कर रहे थे और गाली गलौज भी कर रहे थे. सभी नशे में लग रहे थे. सबों को भवानीपुर गांव की तरफ ही आना था. ट्रैक मैन बार बार कह रहा था कि रेलगाड़ी आने वाली है. रेलगाड़ी के गुजर जाने के बाद गेट खुलेगा. करीब पांच से सात मिनट तक अपराधी हल्ला कर रहे थे और इसी बीच ट्रेन के गुजरने की आवाज आयी. फिर समपार फाटक जैसे ही खुला तो उनलोगों ने एक गोली चलने की आवाज सुनी.

गोली चलते ही दोनों मोटरसाइकिल भवानीपुर गांव की तरफ ही भाग गए. वे लोग यह अनुमान भी नहीं लगा सके कि मुकेश कुमार की हत्या कर दी गयी होगी. रंगरा के थनाध्यक्ष माहताब खान ने कहा कि मामले में छानबीन शुरू कर दी गयी है, हत्या में शामिल अपराधियों को छोड़ा नहीं जाएगा

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है