अंबे पोखर से हटा दिया हनुमान जी का मंदिर

भगलपुर जिले के हबीबपुर थाना क्षेत्र के अंबे पोखर में स्थापित एक हनुमान मंदिर को गुरुवार को प्रशासन की ओर से हटा दिया गया. फिर से उसे स्थापित करने को लेकर शुक्रवार को भी मामला गरमाया रहा. हालांकि, दोनों दिन बुद्धिजीवियों, वरीय पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की सूझबूझ से शांति बहाल की गयी. किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना नहीं हुई. अंबे पोखर व इसके आसपास मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस बलों की तैनाती कर धारा 144 लागू कर दी गयी है. जिला प्रशासन एक फरवरी के बाद इस मामले पर अंतिम निर्णय लेगा. फिलहाल जिलाधिकारी के निर्देश पर एडीएम व एसडीओ के नेतृत्व में जांच के लिए दो कमेटियों का गठन किया गया है.

16194876_1201802

दूसरी ओर सदर एसडीओ ने शांति समिति का गठन कर दिया है. शुक्रवार को दोनों पक्षों के लोगों ने मिल कर खिचड़ी खायी और एकता का संदेश दिया. इसमें हबीबपुर के मुखिया मो इफ्तेखार उर्फ टिंकू और उनके मित्र भी शामिल हुए.

लाठीचार्ज से उग्र हुए लोगों ने अधिकारियों पर किया पथराव
प्रशासन की ओर से गुरुवार को अंबे पोखर से एक धर्मस्थल से पूज्य को उठा कर कहीं और ले जाया जा रहा था. इससे एक पक्ष के लोग भड़क गये. पूज्य को ले जा रहे वाहन व अधिकारियों पर पथराव कर दिया. माहौल गरमाता देख पुलिस ने लोगों पर लाठीचार्ज कर दिया. इससे लोग और उग्र हो गये. पुलिस व पदाधिकारियों को खदेड़ दिया. इसके बाद पुलिस की ओर से 50 चक्र से ज्यादा हवाई फायरिंग हुई. पथराव में कई पुलिस कर्मी व अधिकारी को चोटें आयी. इसी दौरान लोगों ने वाहन से उतार कर पूज्य को वहीं स्थापित कर दिया, जहां वह पहले था. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी आदेश तितरमारे, एसएसपी मनोज कुमार व डीडीसी अमित कुमार ने दोनों पक्षों के लोगों को शांत कराया. मौके पर दंडाधिकारी व पुलिस बलों की तैनाती की गयी.

शुक्रवार को मामला बिगड़ने पर अधिकारियों ने शांत कराया माहौल
इधर शुक्रवार को एक बार फिर दोनों पक्षों के लोग मौके पर पहुंच कर नारेबाजी करने लगे. इससे माहौल गरम होने लगा, लेकिन मौके पर मौजूद अधिकारियों ने उनको समझा-बुझा कर मामला शांत कराया. अधिकारी इधर एक पक्ष को समझा ही रहे थे कि दूसरे पक्ष की ओर से हंगामा शुरू हो गया और सूचना आयी कि दोनों पक्षों में माहौल खराब हो गया है. दोनों ओर के प्रबुद्ध लोग, सिटी डीएसपी व दर्जनों पुलिसकर्मी मौके पहुंचे. एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष के युवकों पर अपशब्द कहने का आरोप लगाया. पुलिस के आने व लाेगों के समझाने पर माहौल शांत हुआ. मौके पर डीडीसी अमित कुमार, सिटी डीएसपी शहरयार अख्तर, अपर समाहर्ता सहित चार थाना पुलिस के अलावा भारी संख्या में पुरुष और महिला पुलिस बल की तैनाती की गयी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......