नवगछिया : पुराने विवाद में मुखिया और प्रमुख समर्थकों में गोलीबारी, एक घायल.. 10-12 राउंड गोलियां चलीं

पुराने विवाद में नगरपारा उत्तरी पंचायत के मुखिया नरेंद्र कुमार उर्फ भूपेंद्र यादव और नारायणपुर प्रखंड के प्रमुख के पति मंटू यादव के समर्थकों के बीच शुक्रवार सुबह साढ़े सात बजे नारायणपुर गांव में गाेलीबारी हुई। इसमें मुखिया का चचेरा भाई प्रिंस यादव (28) घायल हो गया। उसके पंजरे में गोली लगी है। ग्रामीणों ने बताया कि दोनों ओर से 10-12 राउंड गोलियां चलीं। परिजन घायल प्रिंस काे नारायणपुर पीएचसी ले गए, जहां से उसे मायागंज अस्पताल रेफर कर दिया गया। डॉक्टर के अनुसार उसकी हालत चिंताजनक है।

प्रिंस को गोली लगने के बाद मुखिया के समर्थकों ने एनएच-31 को सुबह आठ बजे जाम कर दिया और टायर जलाकर प्रदर्शन करने लगे। इससे वहां गाड़ियाें की कतार लग गई। लाेगाें काे काफी परेशानी हुई। भवानीपुर, खरीक, बिहपुर और झंडापुर थानों की पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन लाेग प्रमुख पति की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे। इसके बाद नवगछिया एसडीपीओ दिलीप कुमार मौके पर पहुंचे और कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद तब तीन घंटे बाद 11 बजे जाम खत्म हुआ। पुलिस ने प्रमुख के पति मंटू यादव, गब्बर यादव व विपिन यादव को हिरासत में ले लिया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

घायल के पिता का अाराेप, घात लगाकर किया गया हमला

जख्मी प्रिंस के पिता बनारसी यादव ने मंटू यादव, गब्बर यादव, सिकंदर यादव, वीरो यादव और सुजो यादव पर बेटे को गोली मारने का आरोप लगाते हुए पुलिस को आवेदन दिया है। मामला आने वाले पंचायत चुनाव से जुड़ा हुआ है। पिता ने बताया कि प्रिंस चाय पीने नारायणपुर चौक गया था। लौटने के दौरान हीरा बाबा स्थान के पास बोलेरो पर घाट लगाए प्रमुख पति व अन्य लोगों ने उसे गोली मार दी। पूर्व में आरोपी पक्ष से मुकदमेबाजी भी हुई थी। वे लाेग अपने भतीजा मुखिया भूपेंद्र यादव का साथ देते हैं, जबकि प्रमुख पति का मुखिया से विवाद है। इस कारण उसके लोगों ने प्रिंस को टारगेट किया।

तीन दिन पहले दोनों पक्षों के बीच हुई थी मारपीट

मंगलवार को क्रिकेट खेलने के दौरान मुखिया और प्रमुख पति के चचेरे भाई सिकंदर यादव के बच्चों के बीच विवाद हुआ था। दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई थी। दोनों ओर से केस दर्ज कराया गया था। शुक्रवार की घटना में सिकंदर यादव का आरोप है कि मुखिया समर्थकों ने ही उसके घर के पास गोलीबारी की। उनलाेगाें काे फंसाया जा रहा है। हालांकि ग्रामीणों ने बताया कि गुरुवार की रात भोज खाने के दौरान भी दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। फिर सुबह गोलीबारी हुई।

गांव में बढ़ाई गई है गश्ती

नवगछिया के एसडीपीअाे दिलीप कुमार ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच पुराना विवाद है। दोनों एक दूसरे पर गोलीबारी करने का आरोप लगा रहे हैं। गांव में पुलिस गश्ती बढ़ा दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *