सनसनी : रंगरा के तात्कालीन सीओ लाखो के घोटाले के मामले में पुलिस ने किया गिरफ्तार-Naugahcia News

नवगछिया : रंगरा प्रखंड में पिछले वर्ष 2017 में आई बाढ़ के दौरान बाढ़ प्रभावित परिवारों को सुखा राशन वितरण करने के लिए खरीद किए गए बाढ़ राहत सामग्री के दौरान ₹ बीस लाख घोटाले में संलिप्त रंगरा के पूर्व सीओ तरुण कुमार केसरी को रंगरा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. दोपहर बाद उसे पुलिस अभिरक्षा में न्यायिक हिरासत में भेज गया. रंगरा पुलिस ने सीओ को सबौर अंचल से गिरफ्तार किया है. बताते चलें कि वर्तमान में श्री केसरी भागलपुर जिले के सबौर अंचल के सीओ के रूप में पदस्थापित हैं.

रंगरा पुलिस ने सीओ को सबौर स्थित उनके कार्यालय से बड़ी ही नाटकीय ढंग से गिरफ्तार किया है. गिरफ्तारी के बाद रंगरा पुलिस उसे अपने साथ रंगरा थाना लाई जहां आवश्यक पूछताछ के बाद उसे नवगछिया स्थित, अपर न्यायिक दंडाधिकारी, तृतीय, संतोष गुप्ता के न्यायालय में पेश किया गया. जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया. छापेमारी दल में केस के अनुसंधानकर्ता उपेंद्र मुखिया सहायक अवर निरीक्षक हाकीम साह के अलावे आधे दर्जन सशस्त्र बल शामिल थे.

क्या है मामला

गौरतलब हो कि रंगरा अंचल में बीते वर्ष 2017 में आई बाढ़ के दौरान रंगरा प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत बाढ़ प्रभावित लोगों के बीच वितरण किए जाने वाले बाढ़ राहत सामग्री चूड़ा, शक्कर एवं अन्य सामग्री की आपूर्ति का ठेका नवगछिया के किराना व्यवसाई अमित जायसवाल को दिया गया था. जिसमें अमित जायसवाल ने कुल 184000 की सामग्री की आपूर्ति की थी.

जिसके खरीद के एवज में अंचल कार्यालय द्वारा राशि का चेक द्वारा भुगतान किया गया था. चेक पर तात्कालीन सीओ तरुण कुमार केसरी के हस्ताक्षर होने के बाद अंचल नाजिर सदानंद तांती की मिलीभगत से अमित जायसवाल ने बड़ी ही चालाकी से ₹184000 रुपये के आग ” 2″ अंक जोड़कर ₹ 2184000 (इक्कीस लाख चौरासी हजार) बना दिया. इसके बाद फर्जी तरीके से बैंक से भुगतान प्राप्त कर राशि को अपने खाते में हस्तांतरित करवा लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......