सरकारी कर्मचारी, पुलिस, फ्रंटलाइन वर्कर्स को 10 से लगेगा टीका.. समानांतर फाेरलेन पुल जल्द शुरू : डीएम

हेल्थ वर्कर के बाद अब सरकारी कर्मियाें काे काेराेना का टीका पड़ेगा। पांच से दस फरवरी के बीच टीके लगने शुरू होंगे। यह जानकारी शनिवार को डीएम सुब्रत कुमार सेन ने दी। उन्हाेंने कहा कि 10 फरवरी से हेल्थ वर्कराें के अलावा अन्य कर्मियाें काे भी टीका लगेगा। इनमें सरकारी कर्मी, पुलिसकर्मी, राजस्वकर्मी समेत फ्रंटलाइन वर्कर शामिल हाेंगे। शनिवार काे डीएम ने समीक्षा भवन में प्रेस कांफ्रेंस की अाैर इसमें विभिन्न याेजनाअाें के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्हाेंने कहा कि अब गांवाें में स्ट्रीट लाइट लगेगी। हर खेत तक सिंचाई के लिए पानी पहुंचेगा। इसके लिए तकनीकी सर्वे शुरू हाेगा।

उन्हाेंने कहा कि धान खरीद सरकार की प्राथमिकता है। पिछले साल की तुलना में इस बार 20 हजार टन बढ़ाकर खरीद का लक्ष्य 60 हजार टन किया गया। अब तक 37 हजार टन की खरीद हाे चुकी है। इसकी समय सीमा भी 21 फरवरी तक बढ़ाई है। गनी बैग की समस्या भी दूर हाे गई है। कैश क्रेडिट दिया गया है। 13 कराेड़ रुपए से ज्यादा पैक्साें काे दिए जा चुके हैं। पिछले साल 31 मार्च तक खरीद का लक्ष्य था, लेकिन इस बार अभी तक ही वह रिकॉर्ड टूट गया है। सर्वे में जिन इच्छुक किसानाें ने धान बेचने की बात कही थी, वे अभी भी पैक्साें काे धान बेच सकते हैं।

डीएम ने बताया, अनुग्रह अनुदान के तहत दी जाने वाली राशि काे लेकर भी पहल तेज की गई है। सीअाे काे निर्देश दिया गया है। कुछ अंचल व जिलास्तर पर मामले पेंडिंग थे। राशि की कमी काे लेकर अापदा प्रबंधन विभाग से अावंटन की मांग की गई है। उन्हाेंने कहा कि काेविड से मरनेवालाें के अाश्रिताें काे चार लाख रुपए मुख्यमंत्री राहत काेष से दिए गए हैं। प्राकृतिक व सामूहिक दुर्घटना में मरने वाले के अाश्रिताें काे 24 से 48 घंटे में मुअावजे की राशि दी जा रही है।

जल-जीवन-हरियाली के तहत 3 हजार कुअाें का हाेगा जीर्णाेद्धार

म्यूटेशन के पेंडिंग मामलाें काे फरवरी तक निपटाने के निर्देश दिए गए हैं। इसमें सीअाे ने लापरवाही बरती ताे कार्रवाई होगी। इसके लिए कई सीअाे से स्पष्टीकरण पूछा गया है। मामले का निपटारा नहीं हुअा ताे विभागीय कार्यवाही भी होगी। वहीं, जल-जीवन-हरियाली के तहत जिलेभर में करीब तीन हजार कुंए का जीर्णाेद्धार हाेगा। इसे पंचायत के माध्यम से 15वीं वित्त अायाेग की राशि से कराया जाएगा। जल-जीवन-हरियाली के तहत 15 फरवरी तक सूबे में टाॅप-10 में पहुंचने का टारगेट है। नल-जल याेजना में तेजी से काम चल रहा है। फरवरी तक पूरा करने काे कहा गया है। साथ ही टीअाेअाई लगेगा, जिससे पता चल जाएगा कि कितनी देर जलापूर्ति की गई है, इसकी निगरानी जिलास्तर पर होगी। अभी तक 150 नल-जल याेजना में टीअाेअाई मशीन लगाई जा चुकी है। बाकी दाे माह में पूरा होगा।

फाेरलेन पुल के लिए जमीन अधिग्रहण काे लेकर मुअावजे का भुगतान शुरू, गांव में लगेगा कैंप

जिले में चल रही बड़ी परियाेजनाअाें में भी डीएम ने जानकारी दी। उन्हाेंने मुंगेर-मिर्जाचाैकी फाेरलेन, अगुवानी पुल अाैर समानांतर फाेरलेन पुल के बारे में बताया। गांवाें में कैंप लगाकर काम हाेगा। सुल्तानगंज-अगुवानी पुल के जमीन अधिग्रहण काे लेकर अगर रैयत मुअावजा नहीं लेंगे ताे राशि समक्ष प्राधिकार में जमा किया जाएगा। समानांतर फाेरलेन पुल के लिए जमीन अधिग्रहण काे लेकर मुअावजे का भुगतान शुरू हाे गया है। काम भी जल्द शुरू हाेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *