भागलपुर/नवगछिया में सड़कों के काम का टेंडर फाइनल, आचार संहिता के पेच में नहीं फंसेगा.. खर्च 140 करोड़

भागलपुर : जिले भर में पीडब्ल्यूडी की जितनी भी सड़कें हैं, सभी का एक साथ पंचवर्षीय रखरखाव कार्य (ओपीआरएमसी स्कीम) का दो कांट्रैक्टरों के नाम से टेंडर फाइनल हो गया है. आचार संहिता लागू होने से पहले ही पथ निर्माण विभाग ने कांट्रैक्टर निरंजन शर्मा एवं टॉप लाइन इंफ्रा प्रोजेक्ट को वर्क ऑर्डर जारी कर दिया है. वहीं, कांट्रैक्टरों ने रखरखाव कार्य भी शुरू कर दिया है.

इस कारण से यह अब आचार संहिता के पेच में नहीं फंसेगा. इस दौरान काम होता रहेगा. सड़कें के रखरखाव पर करीब 140 करोड़ खर्च होंगे, जिसमें दोनों कांट्रैक्टरों की 70-70 करोड़ की भागीदारी होगी.

ओपीआरएमसी के तहत मरम्मत होने वाली प्रमुख सड़कें
अकबरनगर-शाहकुंड-अमरपुर पथ
भागलपुर-अमरपुर भाया कजरैली पथ
सुलतानगंज से तारापुर पथ
तिलकामांझी-चंपानगर पथ वाया आदमपुर
महिला कॉलेज मिरजानहाट पथ
शाहकुंड से असरगंज पथ
तिलकामांझी-बरारी पथ
भागलपुर वैकल्पिक बाइपास
भागलपुर-अमरपुर-कोतवाली पथ
सन्हौला-हनवारा पथ
जगदीशपुर से सन्हौला पथ
कहलगांव बर्निंग घाट पथ
नवगछिया से महादेवपुर घाट
खरीक चोरहर पथ
कटरिया-तीनटंगा पथ

बाइपास सहित सभी ऑन गोइंग प्रोजेक्ट का होता रहेगा काम
आचार संहिता लागू हो गया है. बावजूद, इसके वैसी सभी सड़कों व पुल-पुलियों का निर्माण कार्य बिना बाधा के होते रहेगा, जो ऑन गोइंग प्रोजेक्ट है. बाइपास की रोड, चंपा नाला पुल, सबौर से रमजानीपुर एनएच 80 की रोड के निर्माण पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

ओपीआरएमसी योजना के पैकेज सड़कों का टेंडर फाइनल हो गया है. कांट्रैक्टरों काे वर्क ऑर्डर भी जारी कर दिया गया. सड़कों का रखरखाव कार्य होने लगा है. आचार संहिता के कारण प्रभावित नहीं होगा. इस दौरान काम होता रहेगा.
रामसकल सिंह, कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग कार्य प्रमंडल, भागलपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......