भागलपुर : कहते हैं प्यार अंधा होता है… प्रेमी से शादी करने तीसरे ही दिन ससुराल से भागी प्रेमिका

भागलपुर। कहते हैं प्यार अंधा होता है। अंधा क्या बहरा भी होता है। बस, अपनी ही जिद पर ठहरा होता है। यह मामला भी इसी प्यार की जिद से जुड़ा है। प्रेमी से मिलने की जिद में प्रेमिका शादी के बंधन को तोड़कर तीसरे ही दिन ससुराल से भागकर प्रेमी के घर पहुंच गई। उससे शादी करने की बात पर अड़ गई। घरवालों ने मना किया तो प्रेमी संग मिलकर खुदकुशी करने लगी। पुलिस के पहुंचने पर प्रेमी युगल की जान बचाई जा सकी। लड़का-लड़की दोनों नाबालिग हैं। दोनों के इस नाटक पर प्रेमी और प्रेमिका के स्‍वजन परेशानी में थे। आसपास के लोग भी दोनों के जिद पर आश्‍चर्य कर रहे थे।

कहलगांव इलाके की रहने वाली नौवीं की छात्रा की प्रेम कहानी लॉकडाउन में शुरू हुई थी। वह अपने ननिहाल नाथनगर आई थी। उसी समय पड़ोस के लड़के से दोस्ती फिर प्यार हो गया। दोनों की प्रेम कहानी की भनक लड़की के स्वजन को लगी तो बीते 14 दिसंबर को आनन-फानन मुंगेर के एक इलाके में उसकी शादी करा दी। लेकिन, शादी के तीसरे दिन ही लड़की ससुराल से भागकर मायके कहलगांव पहुंच गई। पति के साथ रहने से साफ इन्कार कर दिया। गुरुवार को प्रेमी के घर नाथनगर पहुंच गई। उसके घरवालों से दोनों की शादी कराने की आरजू-विनती करने लगी।

घरवाले नहीं माने तो प्रेमी के साथ कमरे में बंद हो गई। प्रेमी युगल एक साथ खुदकुशी करने की धमकी देने लगे। गले में रस्सी बांधकर दोनों ने इसकी शुरुआत भी कर दी। इसी बीच नाथनगर पुलिस आ गई। दरवाजे में धक्का देकर गेट खुलवाया। दोनों को साथ लेकर थाना आ गई। दोनों के परिवार वाले भी पहुंचे। बंधपत्र भरवाया गया, जिसमें लड़की के बालिग होने पर अपनी मर्जी से शादी करने की बात लिखी गई। नाथनगर इंस्पेक्टर मु. सज्जाद हुसैन ने बताया कि लड़की को उसके स्वजन के हवाले कर दिया गया। लड़का-लड़की दोनों नाबालिग हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......