December 3, 2021

Naugachia News

THE SOUL OF THE CITY

बिहार में महंगी हो सकती है बिजली, नये साल में प्रति यूनिट बढ़ेगी दरें! जानें क्या भेजा गया प्रस्ताव

अप्रैल, 2022 से बिहार में बिजली 10 फीसदी तक महंगी हो सकती है. बिजली कंपनियों ने सोमवार को बिहार विद्युत विनियामक आयोग को याचिकाएं देकर बिजली दरों में करीब 10% तक बढ़ोतरी का प्रस्ताव दिया है. आयोग अब इन याचिकाओं पर जनसुनवाई के बाद नयी दरें तय करेगा, जो एक अप्रैल, 2022 से प्रभावी होंगी.
बिजली आपूर्ति के खर्च में बढ़ाेतरी का हवाला

कंपनियों ने बिजली आपूर्ति के खर्च में बढ़ाेतरी का हवाला देते हुए सभी श्रेणियों में लगभग 10% तक दरें बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है. वहीं, शहरी घरेलू उपभोक्ताओं के स्लैब को तीन के बदले दो करने का प्रस्ताव दिया गया है. इसमें शून्य से 100 यूनिट के स्लैब को समाप्त कर शून्य से 200 यूनिट का पहला स्लैब और 200 यूनिट से अधिक का दूसरा स्लैब तय करने का प्रस्ताव है.
बिजली दरों में 10% तक वृद्धि का प्रस्ताव

बिजली कंपनियों ने मॉल जैसे व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के लिए अगल से एचटीआइएस श्रेणी बनाने का भी प्रस्ताव दिया है. ऊर्जा सचिव सह बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी के सीएमडी संजीव हंस ने कहा कि कंपनियों ने बिजली दरों में 10% तक वृद्धि का प्रस्ताव सौंपा गया है. आयोग की ओर से दरें तय होने के बाद राज्य सरकार अनुदान की घोषणा करेगी.
पेट्रोल-डीजल के बढ़े दाम तो बिहार के बसों में सफर किया गया महंगा, जानिये कितना बढ़ा किराया

ग्रामीण क्षेत्र की दरें

यूनिट- बिना अनुदान – अनुदान के बाद

 

– 0-50- 6.10 रुपया- 2.60 रुपया

– 51-100- 6.40 रुपया- 2.90 रुपया

– 100 से अधिक- 6.70 रुपया- 3.15 रुपया

शहरी क्षेत्र की दरें

यूनिट- बिना अनुदान – अनुदान के बाद

-0-100- 6.10 रुपया- 4.27 रुपया

-101-200 – 6.95रुपया – 5.12 रुपया

-201 से अधिक- 8.05 रुपया- 6.22 रुपया

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है