बिहार में नौकरियों का पिटारा.. उद्योग लगाएंगी आइटीसी और ब्रिटेनिया जैसी कंपनियां

बिहार में ब्रिटेनिया, आइटीसी और भगवती फूड्स जैसी कंपनियां अपना व्‍यवसाय बढ़ाने की तैयारी में जुटी हैं। ये तीनों कंपनियां बिहार में अपना उद्योग लगाने जा रही हैं। इसके लिए प्रयास काफी पहले से हो रहे थे। राज्‍य सरकार ने तीन कंपनियों को उद्योग लगाने के लिए जमीन भी दे दी है। इन उद्योगों के लगने से बिहार के युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे। प्रदेश की नई सरकार ने प्रदेश में उद्योगों के विकास और राेजगार सृजन पर तेजी से काम करना शुरू कर दिया है। बेरोजगार युवाओं को नौकरी और अन्‍य माध्‍यमों से रोजगार देने के लिए एक साथ कई स्‍तर से समेकित प्रयास हो रहे हैं। इसमें सरकारी रिक्‍त पदों पर भर्ती, निजी क्षेत्र में नौकरियों के सृजन के लिए उद्योगों को बढ़ावा देने और युवाओं को स्‍वरोजगार के लिए कौशल विकास की ट्रेनिंग देना शामिल है।

नए उद्योगों को जमीन देने में सरकार दिखा रही तेजी

उद्योग विभाग ने बिहार में नयी औद्योगिक इकाईयों की स्थापना के लिए कई खाद्य प्रसंस्करण इकाईयों को जमीन उपलब्ध कराना शुरू कर दिया है। इस क्रम में बियाडा ने प्रोजेक्ट क्लियरेंस कमेटी की बैठक में कई निर्णय लिए। आईटीसी को खाद्य प्रसंस्करण इकाई के लिए मुजफ्फरपुर जिले के महवल में 60 एकड़ जमीन उपलब्ध करायी गयी है। कंपनी द्वारा प्रथम फेज में 519 करोड़ रुपए का निवेश करेगी आईटीसी। यहां पांच सौ लोगों का नियोजन प्रस्तावित है।

करीब 1300 लोगों को प्रत्‍यक्ष और हजारों लोगों को अप्रत्‍यक्ष रोजगार

ब्रिटेनिया इंडस्ट्रीज लिमिटेड को बिहटा के सिकंदरपुर में बिस्किट व बेकरी उत्पादन के लिए पांच एकड़ जमीन आवंटित की गयी है। इसके तहत 300 करोड़ रुपए का निवेश होगा और ढाई सौ लोगों का नियोजन संभव हो सकेगा। भगवती फूड्स प्राइवेट लिमिटेड, कोलकाता तो खाद्य प्रसंस्करण उद्योग के लिए बिहटा के सिकंदरपुर में ही 7.5 एकड़ जमीन आवंटित की गयी है। कंपनी द्वारा 67 करोड़ रुपए निवेश किया जाएगा और 548 लोगों का नियोजन संभव है। इस तरह से 886 करोड़ रुपए के निवेश के साथ 1298 लोगों का नियोजन संभव हो सकेगा। इसके साथ ही इन उद्योगों से हजारों लोगों काे अप्रत्‍यक्ष रोजगार भी मिलेगा।

Source : Dainik Jagran

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *