बिहार-झारखंड के 210 रूटों पर चलेगी बस.. भागलपुर-रांची-हजारीबाग, बांका-टाटा, दरभंगा-बोकारो

पटना. राज्य के सभी शहरों से झारखंड, यूपी व अन्य राज्यों तक बसों का परिचालन करने को लेकर परिवहन विभाग ने तैयारी पूरी कर ली है. विभाग ने सबसे पहले बिहार और झारखंड के बीच 210 रूटों पर बसों का परिचालन बढ़ाने को लेकर काम तेज कर दिया है.विभाग ने नयी बसों के संचालन के लिए वाहन मालिकों से 22 अक्तूबर तक आनलाइन आवेदन मांगा है, जबकि 26 अक्तूबर तक आवेदन की हार्ड कॉपी विभाग के कार्यालय में जमा करना है.

 


19 नवंबर को लगेगी विभिन्न रूटों पर चलने वाली बसों के परमिट पर मुहर : विभागीय अधिकारियों के मुताबिक 19 नवंबर को राज्य परिवहन प्राधिकार सह परिवहन आयुक्त के कार्यालय में बैठक होगी, जिसमें बसों की परमिट पर अंतिम मुहर लग जायेगी. इसके बाद बसों का परिचालन शुरू हो जायेगा और दिसंबर से राज्य के सभी शहरों से बिहार से झारखंड जाने वालों को सुविधा होगी. इसके बाद यूपी सहित अन्य राज्यों के लिए भी परमिट दिया जायेगा.

 

परिवहन समझौता के अनुरूप अंतरराज्यीय मार्गों पर बड़ी संख्या में बढ़ा परमिट कोटा

बिहार-झारखंड के बीच हुए पारस्परिक परिवहन समझौता के अनुरूप अंतरराज्यीय मार्गों पर बड़ी संख्या में परमिट कोटा है. विभाग के मुताबिक कई रूट ऐसी भी हैं, जिसमें बसों का परिचालन नहीं हो रहा. इसमें पटना बहरागोड़ा, आरा-गिरीडीह, भभुआ-रांची, गया-बोकारो, गया-देवघर, गया-दुमका, औरंगाबाद-गिरीडीह, जहानाबाद-बोकारो,

नवादा-टाटा, नवादा-हजारीबाग, हसुआ-रांची, मुंगेर-टाटा, जमुई-टाटा, जमुई-देवघर, बेगूसराय-टाटा, बेगूसराय-बोकारो, बेगूसराय-देवघर, खगडिय़ा-धनबाद, छपरा-रांची, छपरा-टाटा, छपरा-बोकारो, मुजफ्फरपुर-धनबाद, सीवान-हजारीबाग, भागलपुर-रांची, भागलपुर-हजारीबाग, बांका-टाटा, दरभंगा-बोकारो, हजारीबा-किशनगंज आदि शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है