पटना से बिहार के सभी 38 जिलों तक चलेंगी 50 नई बसें, भूटान व काठमांडू जाना भी होगा आसान

पटना। बिहार राज्य पथ परिवहन निगम की नयी बसें चलने के लिए तैयार हो गई है। अब परमिट मिलने का इंतजार हो रहा है। 70 बसों में से 50 बसें पटना आ गयी हैं। बसों के परमिट और निबंधन की प्रक्रियाएं पूरी की जा रही है। फरवरी प्रथम सप्ताह तक सभी 25 इलेक्ट्रीक बसों के आ जाने की संभावनाएं हैं।

सीएम करेंगे उद्घाटन

बिहार राज्य पथ परिवहन निगम बसों के संचालन के लिए रूट तैयार कर लिया है। निगम अधिकारियों का कहना है कि सभी बसों के आने की प्रक्रियाएं जल्द पूरी हो जाएंगी। इस बीच परमिट लेने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। बसों के पहुंचते ही निबंधन कराया जा रहा है। सभी पक्रियाएं पुरी करने के बाद बसों का परिचालन शुरू होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाथों बस परिचालन की शुरूआत कराने की तैयारी है।

भूटान व काठमांडू जाना होगा आसान

राज्य के सभी 38 जिलों को जोडऩे वाला रूट तैयार किया गया है। 70 बसों में 15 बसें वातानुकूलित हैं। साथ ही दिल्ली, वाराणसी को बसें जोड़ेंगे। भूटान भी जाना आसान हो जाएगा। बिहार की राजधानी पटना से राज्य के सभी जिला मुख्यालय जुड़ जाएंगे। यातायात सुविधा में विस्तार हो जाएंगी। मोतिहारी से भूटान की सीमा जयगांव तथा बक्सर से गाजीपुर सहित कई स्थानों के लिए बसों का परिचालन कराने की तैयारी है। नेपाल के जनकपुर, काठमांडू जाना भी आसान हो जाएगा।

इलेक्ट्रिक बसें भी आएंगी

पटना सिटी बस सेवा की बेड़ा में इलेक्ट्रीक बसें भी जुड़ जाएंगी। इसके साथ 25 इलेक्ट्रीक बस पटना की सड़कों पर चलने लगेंगी। फुलवारीशरीफ केंद्रीय कर्मशाला में इलेक्ट्रीक बसों के चार्ज के लिए स्टेशन का भी निर्माण कर दिया गया है। परिवहन निगम के प्रशासक श्याम किशोर नयी बसों के परिचालन के पूर्व की तैयारियों में जुट गए हैं। परिचालन शुरू होने के बाद पटना आना आसान हो जाएगा। पटना से राज्य के सभी क्षेत्रों के लिए परिवहन निगम की बसें मिलने लगेंगी।

Source : Dainik Jagran

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......