पटना : तस्करी के सोने को कंडोम में लपेट कर छिपा रखा था शरीर के अंदरूनी हिस्से में, बरामद

पटना : डीआरआइ (डायरेक्टोरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस) की विशेष टीम ने गुरुवार की शाम करीब पांच बजे पटना जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर चार से तीन तस्करों को गिरफ्तार कर लिया. इनके पास से तीन किलो 400 ग्राम तस्करी का सोना बरामद किया गया, जिसकी बाजार में कीमत एक करोड़ 10 लाख से ज्यादा बतायी जा रही है. गिरफ्तार होने तस्करों में अशोक कुमार, अभिमन्यु और अर्जुन शामिल हैं.

ये तीनों पंजाब में अमृतसर के रहने वाले हैं. इन्हें उस समय गिरफ्तार किया गया, जब ये संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस ट्रेन को पकड़ कर नई दिल्ली भागने की फिराक में थे. इनके पास इस ट्रेन का टिकट भी बरामद किया गया है. अब तक की पूछताछ में यह पता चला कि इनकी योजना तस्करी के इस सोने को नई दिल्ली जाकर बेचने की थी. इसे किस व्यक्ति को कहां बेचना था, इन तमाम मुद्दों पर फिलहाल जांच चल रही है.
तीनों तस्करों ने सोने के बिस्किट को कई कंडोम में डालकर इसे अपने शरीर के मल-द्वार में छिपा रखा था. बताया जाता है कि इन्हें इस तरह से तस्करी करने के लिए खासतौर से प्रशिक्षित किया गया था. बिहार में यह पहला मौका है, जब इस तरह से तस्करी के किसी सामान खासकर सोना को छिपाकर लाने का मामला पकड़ा गया है. सोना तस्करी के पहले भी मामले बिहार में पकड़े गये हैं, लेकिन पुराने किसी मामले में शरीर के अंदर छिपाकर लाने की घटना सामने नहीं आयी थी.

स्विट्जरलैंड का है सोना
मोर सीमा पार करके ला रहा था म्यांमार से

पंजाब के रहने वाले तीनों तस्करों के पास से जो सोना बरामद हुआ है, वह स्विटजरलैंड का बना हुआ है. इस स्विस सोने को म्यांमार से तस्करी करके मोर (मणिपुर) सीमा से लेकर भारत के अंदर लाया गया था. इसके बाद ये लोग इसे गुवाहाटी से हाजीपुर तक डिब्रूगढ़-चंडीगढ़ एक्सप्रेस से लेकर आये थे. हाजीपुर से टेम्पो से पटना आये थे और फिर यहां से संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस से नई दिल्ली भागने की योजना थी. परंतु डीआरआइ की खुफिया सूचना के आधार पर इन्हें ऐन मौके पर पटना जंक्शन पर ही दबोच लिया गया.
कब-कब बरामद किया गया सोना
26 जुलाई, 2014
47 किलोग्राम चांदी
बरामद, दो लोग गिरफ्तार
24 सितंबर, 2015
श्रमजीवी एक्सप्रेस से
31 किलोग्राम लावारिस चांदी बरामद
27 फरवरी, 2018
सात लाख रुपये का सोना-चांदी बरामद
15 सितंबर, 2018
73 लाख रुपये का सोना बरामद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......