नवगछिया : 44 करोड़ 47 लाख की लागत से होगा पुल और संपर्क पथ का निर्माण -Naugachia News

नवगछिया : खरीक प्रखंड के सुदूरतम कोसी उस पार लोकमानपुर पंचायत को एक पुल के माध्यम से बाबा बिशु राउत सेतु से जोड़ने वाली योजना को हरी झंडी मिल गयी है. 44 करोड़ 47 लाख रूपये की राशि पुल की प्राक्कलित राशि है. पुल निर्माण करने के लिये टेंडर की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड ने निविदा प्रक्रिया की घोषणा कर दी है. निविदा की प्रक्रिया 14 मार्च से शुरू होगी. लोकमानपुर पंचायत को एक 456.52 मीटर के पुल के माध्यम से बाबा बिशु राउत सेतु से जोड़ा जाएगा. दोनों तरफ संपर्क पथ का निर्माण भी किया जाना है.

मुख्य मंत्री ने चार वर्ष पहले की थी घोषणा

लगभग चार वर्ष पूर्व 17 मई 2015 को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बाबा बिशु राउत पुल का उद्घाटन करने पहुंचे थे तो उस समय बड़ी संख्या में लोकमानपुर के लोग मुख्यमंत्री के सभा स्थल तक पहुंच कर लोकमानपुर को सड़क से जोड़ने की मांग की थी. लोगों की मांग को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोकमानपुर को एक पुलिया के माध्यम से बाबा बिशु राउत सेतु से जोड़ने की धोषणा की थी. घोषणा के बाद पुल को धरातल पर उतारने की प्रक्रिया काफी सुस्त रही. इस बीच ग्रामीणों ने अपना संघर्ष जारी रखा. अंततः ग्रामीणों की मेहनत रंग लयी और अब पुल निर्माण की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है.

मुख्यधारा से जुड़ जाएगा लोकमानपुर पंचायत

पुल और सड़क के माध्यम से सीधे बाबा बिशु राउत सेतु से जुड़ जाने के बाद कोसी नदी के बीच टापूनुमा पंचायत लोकमानपुर विकास की मुख्य धारा से जुड़ जाएगा. आवागमन की निर्बाध सुविधा हो जाने के बाद लोकमानपुर के लोगों की जिंदगी आसान हो जाएगी तो दूसरी तरफ लोकमानपुर गांव में सरकार की योजनाओं को भी उतारने में सहूलियत होगी. मालूम हो कि वर्तमान में लोकमानपुर जाने के लिये दो कष्टप्रद रास्ते हैं. पहला रास्ता ढ़ोढिया घाट से कोसी नदी को पार करके जाता है. इस रास्ते पर ग्रामीणों ने इन दिनों बांस की एक चचरी पुल बना कर इस पार से उस पार जाते हैं. यह पुल कोसी नदी के जल स्तर बढ़ने के साथ ही हर साल ध्वस्त हो जाता है. लोकमानपुर पंचायत का दूसरा रास्ता बाबा बिशु राउत सेतु के पश्चिम कोसी कछार होते हुए जाता है. यह रास्ता सफेद बालू से भारा पड़ा है जो काफी कष्टप्रद है. कोसी का जल स्तर बढ़ने के साथ ही इस रास्ते पर भी कोसी नदी का प्रवाह हो जाता है. इसी रास्ते पर पुल और संपर्क पथ का निर्माण होना है.

कहते हैं पदाधिकारी

बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड के वरीय परियोजना अभियंता रामसुरेश राय ने कहा कि पुल निर्माण कराने की दिशा में टेंडर प्रक्रिया की शुरूआत कर दी गयी है. टेंडर के बाद जल्द ही कार्य प्रारंभ करवाया जायेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......