नवगछिया : स्कूलों में व्यवस्था के विरोध के नाम पर राजनीति, अभिभावकों ने किया विरोध-प्रदर्शन -Naugachia News

खरिक : उर्दू मध्य विद्यालय ध्रुवगंज में एक माह से अधिक समय से बच्चों को एमडीएम नहीं देने, स्कूल परिसर में गंदगी का अंबार रहने एवं पठन-पाठन के बदले स्कूल में बैठकर शिक्षकों पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए सोमवार को ग्रामीणों ने स्कूल परिसर में जमकर हंगामा किया। .

इस दौरान लोगों ने विरोध-प्रदर्शन कर दोषी शिक्षकों पर कार्रवाई की मांग की। करीब दो घंटे तक हंगामे के बाद मांग पूरा नहीं होने पर स्कूल में तालाबंदी की चेतावनी दी। हंगामे की सूचना पर बीआरसी से पहुंचे बीआरपी रामकृष्ण विद्यार्थी, सीआरसीसी कुंदन कुमार एवं प्रभु प्रिंस ने लोगों को समझाकर शांत किया। मामले की जांच कर दोषी पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। इसके बाद लोग शांत हुए। वहीं स्कूल के शिक्षा समिति के सदस्यों ने मामले को लेकर बीडीओ को भी आवेदन दिया। ग्रामीणों ने बताया कि होली के बाद से ही स्कूल में एमडीएम बंद है एवं एवं स्कूल परिसर में गंदगी के कारण चुनाव कराने बाहर से आये पदाधिकारियों को भी इस कारण काफी परेशानी हुई। आरोप लगाया कि स्कूल से शिक्षक अधिकांशत: गायब रहते हैं एवं पठन-पाठन के के बदले स्कूल में बैठकर शिक्षक राजनीति करते हैं। इस कारण बच्चों की पढ़ाई ठप है। वहीं एक शिक्षक पर स्कूल में दबंगई करने का आरोप लगाते ग्रामीणों ने उनके तबादले की मांग की।.

वहीं इस मामले में प्राचार्य मो. जलील अहमद ने सभी आरोपों को गलत बताया। मौके पर सरपंच पति मो. खुर्शीद, उपसरपंच ललन कुंवर, मो. मंगल, मो. आसिफ, रजीम राजा, मंजीद अंसारी समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे। .

नारायणपुर। शहजादपुर पंचायत स्थित प्राथमिक विद्यालय अमरी में सोमवार को चार शिक्षकों में तीन शिक्षक अनुपस्थित रहने पर अभिभावकों ने विरोध-प्रदर्शन किया। ग्रामीणों के कहने पर विद्यालय का मुखिया रूपेश कुमार मंडल ने निरीक्षण किया तो एक शिक्षक पुरुषोत्तम कुमार को छोड़ सभी अनुपस्थित थे। प्रभारी प्रधानाध्यापक ने किसी शिक्षक को प्रभार भी नहीं दिया था।.

File Photo

अभिभावकों का आरोप है कि होली के बाद से एमडीएम में शुक्रवार को फल व अंडा भी नहीं दिया जाता है। विद्यालय में गंदगी का अंबार लगा हुआ था। मुखिया ने तुरंत प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, बीडीओ व जिला शिक्षा अधिकारी को इसकी सूचना देकर अनुपस्थित शिक्षकों पर कारवाई की मांग की। तब ग्रामीणों को समझाकर शांत कराया। प्रभारी प्रधानाध्यापक इंदू देवी से संपर्क करने की कोशिश की गयी लेकिन संपर्क नहीं हो सका। .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......