December 2, 2021

Naugachia News

THE SOUL OF THE CITY

नवगछिया संभलिए… कहीं आपका फेसबुक एकाउंट हैक तो नहीं हो गया है, लगातार रखें नजर

नवगछिया : नवगछिया में अधिकारियों के फेसबुक एकाउंट हैक कर उनके शुभचिंतकों से साइबर अपराधियों द्वारा ठगी करने का मामला लगातार सामने आया है। अनुमंडल अस्पताल के डाक्टर, अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के फर्जी फेसबुक एकाउंट बनाकर मदद के बहाने उनके परिचितों से रुपये की मांग की जा चुकी है। इसी तरह अनुमंडल अस्पताल के पूर्व डीएस डॉ. बरूण कुमार का फर्जी फेसबुक एकाउंट बनाकर उनके फ्रेंड से रुपये मांगे गए। उनके शुभचिंतकों ने रुपये भेजने से पहले फोनकर डॉ. बरूण कुमार से पूछ लिया। तब यह मामला पकड़ में आया।

इसको लेकर नवगछिया थाने में केस कराया गया। नवगछिया के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रवेंद्र भारती का यहां से तबादला होने के बाद उनके फेसबुक के फर्जी एकाउंट से नवगछिया के लोगों से रुपये मांगे जा रहे थे। उन्होंने अपने फेसबुक से सभी फ्रेंड को मैसेज भेजकर लोगों को सर्तक किया था। नवगछिया के तत्कालीन अनुमंडल पदाधिकारी मुकेश कुमार का भी फर्जी फेसबुक आइडी बनाकर नवगछिया के लोगों से रुपये मांगे गए थे।

साइबर अपराधी कैसे मांगते हैं रुपये

साइबर अपराधी किसी फेमस व्यक्ति का फेसबुक एकाउंट बनाकर उनके फ्रेंड लिस्ट में शामिल सभी लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते हैं, जो लोग रिक्वेस्ट एक्सेप्ट करते हैं उनको अपनी जरूरत बताकर मैंसेजर से रुपये की मांग करते हैं। रुपये की मांग आनलाइन पे-फोन व गुगल-पे के माध्यम से करते हैं।

साइबर सेल अपराधियों पर रख रही नजर

नवगछिया एसपी सुशांत कुमार सरोज ने कहा कि साइबर अपराधी के द्वारा फर्जी फेसबुक एकाउंट बनाकर रुपये मांगने का मामला सामने आया है। यदि किसी व्यक्ति को इस तरह का मैसेज आता हैं तो फोन कर जरूर पूछ लें। इसकी शिकायत संबंधित थाना में करें। साइबर सेल के द्वारा ऐसे अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

 

इसलिए सभी अपने फेसबुक एकाउंट पर नजर रखें। बीच-बीच में पासवर्ड बदलते रहते हैं। साथ ही अपना कोई और आइडी बनाकर किसी से रुपया ठगा जा सकता है, इसपर भी ध्‍यान दिया करें।

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है