नवगछिया : विधायक ने कहा कि जनता के लिये वे किसी भी हद तक जा सकते हैं.. अस्पताल करेंगे ठीक, मरेंगे छापा

नवगछिया स्टेशन रोड के कंटेनमेंट जाेन में लगी बैरिकेडिंग काे मंगलवार रात हटाकर अपनी गाड़ी निकालने के मामले में गाेपालपुर के जदयू विधायक ने अजीबाेगरीब तर्क दिया है। बुधवार काे नवगछिया में प्रेस काॅन्फ्रेंस में उन्हाेंने कहा कि उन्हें शाैच लगी थी इसलिए जल्दीबाजी में उन्हाेंने बैरिकेडिंग काे हटाकर अपनी गाड़ी निकाल ली। उन्हें जाेराें की भूख भी लगी थी। हालांकि उस जगह पर बैरिकेडिंग लगाने काे उन्हाेंने गलत भी ठहराया। उन्हाेंने कहा कि यह मुख्य सड़क है।

यहां बैरिकेडिंग नहीं, बैरियर लगाना चाहिए था। वह ताे बैरिकेडिंग काे ताेड़ देते, लेकिन चूंकि वह सत्ताधारी दल के विधायक हैं इसलिए उसे केवल हटाया था। विधायक ने कहा कि बैरिकेडिंग के कारण कई एम्बुलेंस को भी रास्ता बदलना पड़ा था। जहां कमजोर वर्ग के लोग रहते हैं सिर्फ वहीं पर बैरिकेडिंग लगाई गई है। इसलिए जनता के हित के लिए वे किसी भी हद तक जा सकते हैं। उन्हाेंने ताे वहां के दुकानदाराें काे भी कह दिया था कि पुलिस और प्रशासन पूछे ताे बता देना कि विधायक ने बैरिकेडिंग हटाई है। गाेपालपुर के विधायक गाेपाल मंडल ने नवगछिया में कंटेनमेंट जाेन में लगी बैरिकेडिंग काे गलत ठहराया, कहा-सत्ताधारी दल में नहीं रहते ताे उसे ताेड़ देते

पुलिस पर बाेला हमला- कहा नवगछिया थाना का मुंशी दुकानदाराें से करता है वसूली

गाेपाल मंडल ने पुलिस पर भी हमला बोला। कहा-नवगछिया थाना में मुनचुन या चुनचुन नाम का कोई मुंशी है जो दुकानों का फोटो खींच कर दुकानदाराें काे ब्लैकमेल करता है। खुलेआम प्रत्येक दुकानदार से दो-दाे हजार रुपये की वसूली करता है। उन्हें जानकारी मिली है कि पुलिस उस पर प्राथमिकी करने वाली है। लेकिन वह केस मुकदमा से नहीं डरते। कई बार केस-मुकदमा और जेल देख चुके हैं।

कहा- नवगछिया अनुमंडलीय अस्पताल में अाॅक्सीजन सिलेंडर की हाे रही है बिक्री

नवगछिया अनुमंडलीय अस्पताल के कोविड केयर सेंटर में 35 बेड और 55 ऑक्सीजन सिलेंडर रहने के बाद भी एक भी मरीज को भर्ती नहीं किए जाने पर विधायक ने कहा कि वहां पर ऑक्सीजन सिलेंडर की बिक्री होती है। सरकार जनता के नाम पर खर्च कर रही है और छोटे मुलाजिम लूट मचाए हुए हैं। वह जल्द ही अस्पताल में छापा मारेंगे। वहां की व्यवस्था को दुरुस्त करेंगे। अभी मायागंज में अधिकतर समय बिता रहे हैं। वहां लोगों के इलाज की व्यवस्था करवाते हैं। विधायक के साथ भाजपा जिला अध्यक्ष विनोद मंडल, विधायक प्रतिनिधि त्रिपुरारि भारती, दीपक कुमार अादि उपस्थित थे।

राजद ने कहा- अगर अाम अादमी एेसा करता ताे उसे जेल भेज देती पुलिस

नवगछिया के बीडीअाे व नवगछिया नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी ने बैरिकेडिंग काे हटाने के मामले की जांच की। कार्यपालक पदाधिकारी संजीव कुमार सुमन ने अपनी रिपाेर्ट में कहा कि अभी बैरिकेडिंग यथावत है। जबकि बीडीअाे प्रशांत कुमार ने जांच रिपोर्ट में कहा है कि विधायक गोपाल मंडल ने बैरिकेडिंग को हटाया था। उधर, राजद नेता शैलेश कुमार ने कहा कि सत्ता पक्ष के लिए नियम सिर्फ कागजों पर हैं। जिला प्रवक्ता विश्वास झा ने कहा कि एेसा अाम अादमी करता ताे पुलिस उसे जेल भेज देती, लेकिन विधायक पर कार्रवाई नहीं हाे रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......