नवगछिया मे अपने ही पैसे को निकलने के लिए दर-दर भटक रहे हैं लोग -Naugachia News

नवगछिया – नवगछिया में शहरी क्षेत्र व ग्रामीण इलाकों को मिलाकर तकरीबन 15 बैंक है. जिसमें की ज्यादा एसबीसी बैंक है जो कि इनका तीन शाखा है, एसबीसी का पहला शाखा महाराज जी चौक से आगे कुछ ही दुरी पर एसबीआई कि मेन ब्रांच है दुसरा पकरा गांव में और तीसरा शाखा है बाजार के शांति कंपलेक्स में वहीं युको बैंक का भी दो शाखा है,

नवगछिया में बैंक की शाखाओं में खाताधारकों को लिमिट में रुपये का भुगतान किया जा रहा है. खाताधारकों द्वारा अधिक राशि की माँग किये जाने पर बैंक प्रबंधन द्वारा कहा जाता है कि जिनको राशि देनी है. उसके खाते में राशि का हस्तांतरण कर दिया जायेगा. नगद राशि लिमिट में ही दी जा सकती है.

नवगछिया के सभी एटीएम मशीन में नो केश लिखा हुआ है. बाजार के मेन ब्रांच एसबीआई शाखा के पास चार एटीएम है जिसमें दो एसबीआई का है जबकि एक एचडीएफसी व एक्सीस बैंक का एटीएम है जिसमें की किसी का शटर गीड़ा हुआ है तो कोई खुला है मगर उसमें नगद केश नहीं निकल रहा है. जिससे पैसा निकालने जाने वाले घुम रहे हैं. निजी एटीएम पिछले कई दिनों से सफेद हाथी बना हुआ है. अधिकांश एटीएम में मशीन खराब होने का बोर्ड लगा दिया गया है. जबकि हकीकत कुछ और है. ग्राहक सेवा केन्द्र की स्थिति और भी दयनीय है.

इस प्रकार शादी – ब्याह के मौसम में आम लोग रुपए के लिए दर दर भटक रहे हैं. नवगछिया राजेंद्र कॉलोनी निवासी विकास कुमार ने कहा कि घर में मरीज है उनके लिए दवाई लाना है घर में पैसा नहीं रहने के कारण एटीएम से पैसा निकालने के लिए आए हुए थे. उन्होंने कहा कि 4 से 5 एटीएम हम घूम घूम कर देख लिए है. किसी एटीएम से पैसा नहीं निकला. एटीएम से पैसा नहीं निकलने से दवाई खरीदने में काफी परेशानी होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......