नवगछिया में 40 करोड़ की लागत से कटावरोधी कार्य में संवेदक को नोटिस -Naugachia News

नवगछिया : नवगछिया बाढ़ नियंत्रण कार्यालय के कार्यपालक अभियंता इंजीनियर अनिल कुमार ने कटावरोधी कार्य करा रही प्राइवेट कंपनी के प्रोपराइटर को लापरवाही और धीमी गति से कार्य किए जाने को लेकर नोटिस जारी किया है। नोटिस के माध्यम से कहा गया है कि आखिर किस कारण से कार्य की गति धीमी पड़ गई है।

दरअसल, नवगछिया में 40 करोड़ की लागत से कटावरोधी कार्य चल रहे हैं। जिसमें काफी लापरवाही बरती जा रही है। नोटिस में वहां पर मौजूद सभी अभियंताओं से भी रिपोर्ट मांगी गई है। साथ ही कहा गया है कि अगर प्रतिदिन कार्य की प्रगति ठीक नहीं रही तो उनके ऊपर भी कानूनी कार्रवाई की सिफारिश की जाएगी।

मालूम हो कि कोसी नदी में नगरपारा तटबंध से लेकर मदरौनी के बीच तीन अलग-अलग योजनाओं के तहत कटाव से बचाव के लिए कार्य होना है लेकिन कटावरोधी कार्य की प्रगति धीमी होने को लेकर के मुख्य अभियंता एवं अधीक्षण अभियंता ने रिपोर्ट तलब कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। जिसको लेकर के कार्यपालक अभियंता द्वारा नोटिस जारी किया गया है। अधीक्षण अभियंता इंजीनियर महेंद्र प्रसाद ने कहा था कि हम लोगों ने लगभग 270 मीटर में किए गए कार्यों को तत्काल बदलवा कर उसे सुधार करवाया गया था।

वहीं इस्माइलपुर से विंद टोली के बीच कई जगहों पर कटाव से बचाव के कार्य प्रारंभ नहीं करने को लेकर वहां के भी संवेदक को नोटिस जारी करने की बात कार्यपालक अभियंता द्वारा बताया गई है। वहीं गंगा मेंजैन कंस्ट्रक्शन द्वारा लगभग 50 करोड़ की लागत से कटाव से बचाव का कार्य किया जा रहा है जिसे 15 मई तक पूरा करना है। विभाग द्वारा दोनों ही कार्यों को लेकर के चुनाव के कारण विभागीय अभियंता के चुनाव कार्य में व्यस्त रहने से यहां पर थोड़ा कार्य धीमा हो गया है। अधीक्षण अभियंता महेंद्र प्रसाद ने बताया कि हम लोग बाढ़ से पूर्व यहां पर सभी तरह के कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......