नवगछिया : महज 88 हजार रुपए की लालच में सौतेली मां और पिता ने बेटे को दूध में जहर दे मार डाला-Naugachia News

नवगछिया : महज 88 हजार रुपए की लालच में सौतेली मां और पिता ने मिलकर अपने बेटे को दूध में जहर देकर मार डाला। हत्या करने के बाद दोनों ने घर से कुछ दूरी पर कोसी नदी किनारे शव को दफना दिया। यह घटना सोमवार की रात रंगरा थाना क्षेत्र के सधुआ गांव की है। रात को ही शव को जानवरों ने खोदकर बाहर निकाल दिया। मंगलवार की सुबह गांव के चरवाहों की नजर शव पर पड़ी। उन्होंने इसकी सूचना ग्रामीणों को दी। ग्रामीण वहां पहुंचे और शव की पहचान की। शव गांव के ही संजय साह के पुत्र रवि कुमार (17 वर्ष) की थी।

इसके बाद ग्रामीणों ने इसकी सूचना पूर्णिया जिले के मोहनपुर के मालपुर निवासी रवि के मामा जगदीश साह को दी। वह यहां पहुंचे और सभी ने मिलकर घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची और शक के आधार पर संजय साह को गिरफ्तार कर लिया। वहीं रवि की सौतेली मां पुपुल देवी पुलिस की आने की भनक लगते ही फरार हो गई। संजय साह से पुलिस ने जब कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सब कुछ उगल दिया। जगदीश साह के बयान पर संजय साह व उसकी दूसरी प|ी पुपुल देवी पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गई है। रंगरा थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार साह ने बताया कि घटना का खुलासा कर लिया गया है। नामजद आरोपियों में से संजय साह की गिरफ्तारी हो चुकी है। पुपुल देवी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

एक सप्ताह पूर्व ही पंजाब से मजदूरी कर घर लौटा था

रवि एक सप्ताह पूर्व ही मजदूरी कर पंजाब से घर लौटा था। इसके बाद वह गांव में एक ट्रैक्टर पर मजदूरी करने लगा। सोमवार को उसने यूको बैंक चापर हाट से पंजाब में कमाए 88 हजार रुपए निकाल कर घर लाया। बताया जा रहा है कि रुपए हड़पने के लिए ही सौतेली मां और पिता ने मिलकर उसे मार डाला और शव को दफना दिया।

सौतेली मां व भाई से संपत्ति को लेकर होता था विवाद

ग्रामीणों ने बताया कि रवि जब एक साल से भी कम उम्र का था तभी उसकी सगी मां ने आत्महत्या कर ली थी। पहली प|ी की मौत के बाद संजय साह ने नवगछिया थाना क्षेत्र के मकंदपुर निवासी पुपुल देवी से दूसरी शादी की। दूसरी प|ी से संजय साह को एक पुत्र और तीन पुत्रियां हैं। रवि अपने पिता की जायदाद में अपने हिस्सेदारी की मांग बराबर करता था। इस कारण सौतेली मां पुपुल देवी और उसके बेटे व बेटियों से हमेशा विवाद होते रहता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......