January 22, 2022

Naugachia News

THE SOUL OF THE CITY

नवगछिया बाजार में रीफिलिंग के दौरान रिसाव से हुआ सिलेंडर में विस्फोट.. चार लोगों पर प्राथमिकी

नवगछिया। नवगछिया बाजार के नोनियापट्टी में रीफिलिंग के दौरान सिलेंडरों के विस्फोट की घटना के बाद नवगछिया प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी लोकेश कुमार ठाकुर के लिखित आवेदन पर नवगछिया थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। दर्ज प्राथमिकी में रामचंद्र साह उसके भाई अरुण साह, अशोक महतो सभी घर नोनियापट्टी एवं अशोक साह पर एक सिलेंडर से दूसरे सिलेंडर में अवैध रूप से गैस भरने एवं बिक्री करने, सिलेंडरों का उपयोग करने से पहले सील को हटाने, बिना प्राधिकरण के खाली गैस सिलेंडरों, वाल्व, रेगुलेटर की बिक्री करने, कीमत अधिक लेकर कम मात्रा में गैस देने और गैस का अवैध भंडारण को लेकर आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा तीन के अंतर्गत निर्गत द लिकवीफाइड पेट्रोलियम गैस का उल्लंघन करने की प्राथमिकी दर्ज की गई है।

दर्ज प्राथमिकी में एमओ ने बताया है कि 10 दिसम्बर को दोपहर 1.45 बजे बजे नोनियापट्टी में रामचंद्र साह व उसका भाई अरुण साह अपने मकान में घरलू गैस सिलेंडर से छोटा सिलेंडर में गैस रीफिलिंग का काम कर रहा था। उसी दौरान गैस का रिसाव होने के कारण घर में सिलेंडर ब्लास्ट हो गया। ब्लास्ट होने से इनका तथा बगल का मकान क्षतिग्रस्त हो गया।

आग की लपटें जब शाम पांच बजे बंद हुईं तो इनके घर की तलाशी के क्रम में घर से 19 किलोग्राम का 11 सिलेंडर भरा हुआ, 14.2 किलोग्राम का छह सिलेंडर भारत गैस का भरा हुआ, 44 गैस सिलेंडर खाली भारत गैस कंपनी का, 19 किलोग्राम का 30 गैस सिलेंडर इंडियन कंपनी का, 10 क्षतिग्रस्त सिलेंडर, क्षतिग्रस्त मोटरचालित नोजेल, क्षतिग्रस्त वेट मशीन सहित कुल 91 सिलेंडरों को गवाहों के साथ थाना लाया गया। प्राथमिकी में उन्होंने बताया है कि 10 दिसम्बर के शाम में अशोक महतो के घर से तलाशी के क्रम में 14.2 किलोग्राम का 43 खाली सिलेंडर भारत गैस का, 14 सिलेंडर एचपी का और 4 खाली सिलेंडर इंडियन का बरामद हुआ। इसके बाद पुलिस पदाधिकारी आशुतोष कुमार के साथ व्याहुत चौक पर अशोक साह के घर पर छापेमारी कर 14.2 किलोग्राम का पांच खाली गैस सिलेंडर इंडियन कंपनी का, तीन खाली सिलेंडर भारत गैस का, चार घरेलू गैस कार्ड बरामद हुआ।

एमओ ने बताया कि जब्त सिलेंडर में से 170 गैस सिलेंडर को देवी गैस एजेंसी को सुरक्षित रखने के लिए दिया गया है। रामचंद्र साह, अरुण साह, अशोक महतो और अशोक साह पर आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा तीन के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज की गई है। आशुतोष कुमार को कांड का अनुसंधानकर्ता बनाया गया है।

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है