नवगछिया बाजार में बदमाशों का आतंक सिर चढ़कर बोलने लगा.. दुकान में की लूटपाट

नवगछिया। नवगछिया बाजार में बदमाशों का आतंक सिर चढ़कर बोलने लगा है। शाम ढलते के साथ ही एक साथ तीन से चार बाइक पर सवार हथियारों से लैस बदमाश घूम-घूमकर लूटपाट और रंगदारी मांगने की घटना को अंजाम दे रहे हैं। विरोध करने पर गोलीबारी भी कर रहे हैं। शुक्रवार संध्या समय चार बाइक पर सवार एक दर्जन बदमाशों ने मुख्य बाजार की पुरानी सब्जी पट्टी के दुकानकर मो. रुस्तम की दुकान पर जाकर बाप-बेटे के साथ मारपीट की और गल्ले में रखे 35 हजार रुपये छीन लिये।

दुकानदार के पुत्र मो. नौशाद ने बताया कि दोनों बाप-बेटा दुकान पर बैठे हुए थे। उसी समय धोबिनिया का धन्ना यादव, पवन यादव सहित कई आदमी मेरे दुकान पर आये और मारपीट करने लगे। मैंने जब विरोध किया तो धन्ना यादव ने मेरी कनपट्टी में पिस्टल सटा दी, पवना यादव ने मेरे अब्बा की कनपट्टी में पिस्टल सटाकर गल्ले से पैंतीस हजार रुपया निकाल लिया। दुकानदार ने बताया कि इस दौरान एक बदमाश हाथ में राइफल ताने हुआ था। पैसा लेकर वे लोग केस नहीं करने की धमकी देकर फरार हो गए।

वार्ड पार्षद पति से दारू पीने के लिए मांगे 50 हजार, अंधाधुंध फायरिंग की

बाजार में लूटपाट करने के बाद हथियारबंद बदमाशों ने हथियार लहराते हुए बाइक से रेस लगाते हुए माखातकिया में वार्ड 15 के पार्षद सिमिया देवी के पति विनोद सिंह से दारू पीने के लिए 50 हजार की रंगदारी मांगी। विनोद सिंह अपने कुछ लोगों के साथ दरवाजे पर बैठे हुए थे। विनोद सिंह ने बताया कि जब मैंने पैसा देने से इनकार कर दिया तो वे लोग मेरे साथ बैठे सूरज को खींचकर ले जाने का प्रयास करने लगे। मेरे विरोध पर वे लोग मेरे ऊपर गोली चलानी शुरू कर दी। मैंने घर के अंदर भागकर जान बचाई। उनलोगों ने लगभग 15 से 20 राउंड गोली चलायी। गोली की आवाज से आसपास के लोग जुट गए और बदमाशों को खदेड़ा। उनलोगों द्वारा खदेड़े जाने पर बदमाश दो बाइक छोड़कर भाग गए। जिसे उग्र भीड़ ने क्षतिग्रस्त कर दिया। घटना की सूचना पर थानाध्यक्ष भारत भूषण बदमाशों को खदेड़ते हुए धोबिनिया गांव की तरफ गए हैं। घटना के बाद बाजार में व्यवसायी दहशत में हैं। बाजार में धड़ाधड़ शटर गिरना शुरू हो गया।

दस दिन पूर्व दो को अगवा कर वसूली थी रंगदारी

धन्ना यादव का आतंक सिर चढ़कर बोलता है । वह आर्मी का जवान भी है। रंगदारी और गोलीबारी के मामले में वह जेल भी गया है। दस दिन पूर्व भी वह दो लोगों को अगवा कर उससे रंगदारी वसूला था। उसने माखातकिया के रतन स्वर्णकार के घर भी गोली चलाई थी। बाजार में अक्सर वह रंगदारी वसूलता है और गोलीबारी करता है। बाजार वासियों ने व्यवसायियों की सुरक्षा की मांग एसपी से की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है