नवगछिया : प्रेम प्रसंग में युवक की ह’त्या कर पटरी पर फेंका शव, लड़की वालों द्वारा जान मारने की धमकी-Naugachia News

नवगछिया : प्रेम प्रसंग में युवक की हत्या कर शव को पटरी पर फेंक कर आत्महत्या साबित करने का एक मामला सामने आया है। कुर्सेला स्टेशन से थोड़ा आगे पानी टंकी के पास रेल पटरी पर गुरुवार सुबह नवगछिया जीआरपी ने युवक का सिर कटा हुआ शव बरामद किया है।

इसकी पहचान पूर्णिया जिले के टीकापट्टी निवासी लक्ष्मीकांत मोदी के पुत्र नीरज कुमार (24) के रूप में हुई। मामले की जानकारी पर पहुंची नवगछिया जीआरपी ने शव को कब्जे मे लेकर अनुमंडल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाया। परिजन हत्या कर शव को पटरी पर फेंकने का आरोप लगा रहे हैं।

हालांकि पुलिस इस बात से इंकार कर रही है। थानाध्यक्ष ने बताया कि प्रथम दृष्टया किसी ट्रेन से कटने से मौत प्रतीत हो रहा है। नवगछिया आये मृतक के मामा सियाराम मोदी एवं अन्य लोगों ने आरोप लगाया कि इसी थाना क्षेत्र के कौशकीपुर सिमरा निवासी एक व्यक्ति एवं इनके सहयोगियों ने अन्यत्र गला काट कर शव को पटरी पर फेंका है। बताया कि वह बुधवार की शाम करीब चार बजे से ही घर से लापता था। जानकारी के अनुसार युवक का ननिहाल भी कौशकीपुर है जिस कारण वह बराबर वहां आता-जाता था। पिछले पांच वर्षों से आरोपी की पुत्री एवं नीरज के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था। इसी कारण हत्या करने का परिजन आरोप लगा रहे हैं।

परिजनों ने बताया कि पिछले चार दिन पूर्व भी सिमरा में इस मामले को लेकर सरपंच की मौजूदगी मे पंचायत हुई थी जिसमें लड़की वालों द्वारा जान मारने की धमकी भी दी गयी थी। बताया कि इससे पूर्व भी फोन पर कई बार धमकी दे चुका था। वहीं सुबह में मृतक का चचेरा भाई अमन कुमार पटना से आने के दौरान कुर्सेला स्टेशन पर उतरा जहां लोगों की भीड़ देखकर वह शव के पास पहुंचा और उसी ने घर पर सूचना दी जिस पर मृतक का भाई यश कुमार मोदी घटनास्थल पर पहुंच कर शव की पहचान अपने छोटे भाई के रूप में की। नीरज इस बार इंटर पास किया था।

पुलिस पर हत्या का केस दर्ज नहीं करने का लगाया आरोप

हत्या का केस दर्ज नहीं करने का नवगछिया जीआरपी पर आरोप लगाते हुए परिजनों ने बताया कि हमलोगों द्वारा दिया गया आवेदन पुलिस नहीं ले रही है। अपने हिसाब से तैयार किये गये आवेदन पर मृतक के भाई से हस्ताक्षर करवा लेने का भी परिजनों ने आरोप लगाया।

रेल एसपी ने कहा मामले की होगी जांच

युवक की हत्या हुई है या आत्महत्या है यह एक जांच का विषय है। किन्तु शव देखने से हत्या प्रतीत हो रहा है। क्योंकि ट्रेन से कटने पर शव का अधिकांश भाग क्षत-विक्षत हो जाता है जबकि इसके शरीर पर कही भी जख्म के निशान नहीं है। यहां तक की उसके हाथ में पहनी घड़ी एवं चप्पल भी सही सलामत है। शव देखने के बाद बदमाशों द्वारा तेज धारदार हथियार से गला काटकर पटरी पर फेंकने की आशंका स्थानीय लोगों द्वारा जतायी जा रही है। रेल एसपी दिलीप कुमार मिश्र ने कहा कि पुलिस मामले की जांच में लगी है। कहा कि मैं खुद इसकी मोनेटरिंग कर रहा हूं। जांच में अगर हत्या की बात सामने आती है तो हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......