नवगछिया : चोरहर में सात व मैरचा में तीन घर नदी में विलीन.. दोनों जगह भीषण कटाव

खरीक, चोरहर और मैरचा में कोसी नदी का कटाव काफी तेज हो गया है। दोनों जगह भीषण कटाव हो रहा है। सोमवार को चोरहर में सात और मैरचा में तीन घर कोसी की भेंट चढ़ गये। कटाव चोरहर घाट से पश्चिम दिशा की ओर गांव के समीप करीब दो सौ मीटर की लंबाई में हो रहा है। जिसमें जमीनदारी तटबंध भी कटकर नदी में समा रहा है। जिन सात लोगों के घर नदी में समा गये। उनमें नरेश पंडित, खंतर पंडित, प्रकाश मिस्त्री, विजय पंडित, भुवनेश्वर पंडित, दिलीप पंडित एवं शंकर शर्मा का घर शामिल है। इसके अलावा गुड्डू पंडित, विजय पंडित, रवि पंडित समेत करीब एक दर्जन घर कटाव के मुहाने पर पहुंच चुका है। जो किसी भी समय नदी में समा सकता है। कटाव में तीन पोल भी तार समेत नदी में समा गये। राजेश पंडित व अन्य ग्रामीणों ने बताया कि फल्ड फाइटिंग कार्य के तहत बम्बू रॉल नदी में गिराया जा रहा है। किन्तु कटाव पर ब्रेक नहीं लग पा रहा है।

वहीं कोसी पार भवनपुरा पंचायत के मैरचा में कटाव की रफ्तार में कोई कमी नहीं आ रही है। सोमवार को वरूण दास, बबलू दास एवं छुतहरू दास के घर नदी में समा गये। करीब दो दर्जन घर कटाव के मुहाने पर है। पंसस प्रतिनिधि संजय कुमार ने बताया कि यहां कब किसका घर नदी में समा जाएगा यह कहना मुश्किल है। कटाव के मुहाने पर पहुंच चुके घरों को लोग खाली कर सुरक्षित जगह पर शरण लिये हुये हैं। खुद घर को तोड़कर ईंट वगैरह सुरक्षित स्थानों पर रखने में जुटे हुए हैं। गांव के लोग दहशत के कारण रतजगा कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि अब गांव का अस्तित्व ही समाप्त हो जाएगा।

जिसे लोगों ने बनाया आशियाना, उस पर मंडराने लगा खतरा

कटाव के मुहाने पर पहुंच चुके घरों के लोग अपने सभी सामानों, महिला एवं बच्चों के साथ गांव स्थित मध्य विद्यालय स्कूल परिसर में शरण लिये हुए हैं। किन्तु उस स्कूल पर भी कटाव का खतरा मंडराने लगा है। जिस कारण लोग चिंतित एवं परेशान हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है