नवगछिया : खरीक के मैरचा में फिर शुरू हुआ कटाव 8 घर कोसी नदी में समाए, कई पर खतरा

प्रखंड में कोसी का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। भवनपुरा पंचायत के मैरचा गांव में शुक्रवार को फिर भीषण कटाव शुरू हो गया। देखते ही देखते एक के बाद एक कुल आठ घर कोसी नदी में विलीन हो गए। जिससे पट्टु दास, सिकंदर दास, गुजो दास, कपिलदेव दास, रूदल दास, उपेंद्र दास, ब्रजेश दास, रसिकलाल दास का परिवार खुले आसमान के नीचे रहने को विवश हो गया है। साथ ही गांव के दर्जनों लोगों के घर कटाव की जद में हैं। जो कभी भी नदी में समा सकते हैं। सभी पीड़ित परिवार मजदूर वर्ग से हैं और मजदूरी कर किसी तरह रहने के लिए घर बनाया था। कटाव की रफ्तार इतनी तेज है कि पलक झपकते जमीन का बड़ा हिस्सा कटकर नदी में समा जा रहा है। अचानक शुरू हुए भीषण कटाव से ग्रामीणों में अफरा-तफरी मच गई। अब ग्रामीण घर का सामान ट्रैक्टर, जुगाड़ गाड़ी पर लोड कर सुरक्षित स्थानों की ओर पलायन कर रहे हैं। वहीं जो अभी गांव में हैं वे रतजगा कर रहे हैं। पंसस पति संजय कुमार समेत अन्य ग्रामीणों ने बताया कि अगर कटाव की रफ्तार यही रही तो अगले दो-तीन दिन में पूरा गांव नदी में समा जाएगा। नदी उग्र रूप धारण कर चुकी है। जिसे देख लगता है कि इस बार इलाके में बड़ी तबाही मचेगी।

बिहपुर के कहारपुर में भी कटाव जारी

बिहपुर। कहारपुर में भी कोसी का कटाव रुकने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार को यहां भी कटाव भीषण रूप धारण कर लिया है। यहां पहले ही दो दर्जन से अधिक घर, बगीचा और किसानों की सैकड़ों एकड़ उपजाऊ जमीन नदी में समा चुके हैं। अब दर्जनों घर कटाव के मुहाने पर हैं। जो कभी भी नदी में समा सकते हैं। लोग अपने घरों के खिड़की दरवाजे उखाड़कर सुरक्षित स्थानों पर ले जाने में जुटे हुए हैं। जल संसाधन विभाग की ओर से बचाव काम कराया जा रहा है, लेकिन कटाव की गति इतनी तेज है कि यह नाकाफी साबित हो रहा है।

जहांगीरपुर वैसी में नहीं रुक रहा कटाव

रंगरा| जहांगीरपुर वैसी में कोसी का कटाव नहीं रुक रहा है। बचाय कार्य शुरू किया गया है, लेकिन कटाव की रफ्तार तेज है। शुक्रवार को ग्रामीणों ने कोसी तट पर नमाज अदा कर कटाव से बचाने की दुआ की। मो मंजूर आलम, मो इस्तेखार आलम, नयाज अख्तर ने बताया कि अब नदी उनके घर के समीप पहुंच गई है। विभाग के कार्यपालक अभियंता अनिल कुमार ने बताया कि कटाव रोकने का प्रयास किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है