नवगछिया : इस्माईलपुर में बाढ़ के कारण ग्रामीण विकास की सभी सड़कें कई जगह ध्वस्त

नवगछिया। गंगा नदी में आयी इस वर्ष की प्रलंयकारी बाढ़ में इस्माईलपुर प्रखंड की अधिकांश सड़कें ध्वस्त हो जाने के कारण प्रखण्ड टापू में तबदील हो गया है। नवगछिया, परबत्ता व गोपालपुर से सड़क मार्ग से जाने का रास्ता 15 अगस्त से ही भंग है। 15 अगस्त की दोपहर को इस्माईलपुर-बिंद टोली के बीच डिमाहा गांव के निकट 200 मीटर में तटबंध के ध्वस्त होने के कारण प्रखंड आने वाली ग्रामीण विकास विभाग की सड़कें कई जगह ध्वस्त होने के कारण टापू में तबदील हो गयी हैं।

नवगछिया की ओर से इस्माईलपुर जाने वाली ग्रामीण विकास की सड़क जफरू दास टोला में कब्रगाह के निकट पुलिया सहित करीब 150 मीटर में ध्वस्त हो गई है। परबत्ता की ओर से इस्माईलपुर आने वाली ग्रामीण विकास की सड़क स्थित तीन पुलिया ध्वस्त हो गई है। चंडीस्थान से केलाबाड़ी सड़क दो जगह ध्वस्त हो गयी है। बसगढ़ा-विनोबा सड़क पर भी कई जगह बनी पुलिया ध्वस्त हो गयी है। साथ ही सड़क भी क्षतिग्रस्त है। अचानक तटबंध के ध्वस्त होने के कारण पंचायतों द्वारा निर्मित सड़कें भी बड़ी संख्या में क्षतिग्रस्त हुई हैं।

नवगछिया में पथ निर्माण विभाग की भी कई सड़कों की हालत खराब

नवगछिया अनुमंडल के पथ निर्माण विभाग द्वारा बनायी गयी महादेवपुर घाट व रंगरा सहित कई अन्य सड़कें बाढ़ के पानी के दबाव के कारण ध्वस्त हुई हैं। विभाग के अभियंताओं की टीम ने भी इन सड़कों का निरीक्षण कर तत्काल इसे मोटरेबल करने का निर्देश नवगछिया सहायक अभियंता को दिया है। नवगछिया महादेवपुर सड़क कलबलिया धार के समीप भी क्षतिग्रस्त हुई है। डुमरिया से तीनटंगा जानेवाली कई पंचायतों को जोड़नेवाली सड़क भी दरिया में पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी है। जिसे मिट्टी डालकर चलने लायक बनाया गया है। कटरिया तीनटंगा सड़क रंगरा गांव एवं डुमरिया के बीच में कई जगहों पर टूट गयी है लेकिन इसे चलने योग्य तत्काल बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है