नवगछिया अनुमंडल में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा प्रभाव.. हुए थे शहर के लोग संक्रमित

नवगछिया – अब तक देखा गया है कि नवगछिया अनुमंडल में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा प्रभाव शहर पर पड़ता है. पिछले दोनो लहर में सबसे ज्यादा नवगछिया शहर के लोग संक्रमित हुए. कई लोग असामयिक काल के गाल में समा गए. ऐसी स्थिति को देखते हुए नवगछिया शहर में शत प्रतिशत वैक्सिनेशन करवाने के लिये स्वास्थ्य विभाग ने एड़ी चोटी का जोड़ लगा दिया है. मालूम हो कि अब तक नवगछिया शहर में अब तक 14 फीसदी लोग पूर्ण रूपेण कोरोना वैक्सिनेशन करवा चुके हैं. जबकि 23392 लोग वैक्सीन का फर्स्ट डोज ले चुके हैं. शहर ने 18 वर्ष से अधिक लोगों की कुल संख्या 57700 है.

इसमें 31827 लोगों का शत प्रतिशत वैक्सिनेशन करने का लक्ष्य स्वास्थ्य विभाग ने रखा है. 24 जुलाई तक कि रिपोर्ट पर गौर करें तो पता चलता है कि अब तक दोनों डोज और एक डोज लेने वाले कुल लोगों की संख्या 28003 है. ऐसी स्थिति में अगले चार माह तक शत प्रतिशत वैक्सिनेशन होने की उम्मीद है. नवगछिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ बरुण कुमार ने कहा कि नवगछिया शहर में रोजाना हजारों लोग आते जाते हैं, इसलिये कोरोनकाल में यह कोरोना हब बन जाता है. ऐसी स्थिति में शहर को सेचुरेशन करना अत्यंत आवश्यक है. उन्होंने कहा कि संतुष्टि है कि नवगछिया शहर शत प्र

तिशत टारगेट को पूरा करने में बस चंद कदम दूर हैं.

सोमवार को शहर में 13 जगहों पर होगा वैक्सिनेशन

सोमवार को नवगछिया शहर में कुल 13 केंद्र बनाए गए हैं. डॉ बरुण ने जानकारी देते हुए कहा कि इंटर हाईस्कूल में दो केंद्र, अरजपुर श्रीपुर, फूलचंद मध्य विद्यालय, धोबिनीय विद्यालय, मुमताज मोहल्ला, मनियमोर में नगर पंचायत कार्यालय के पास, उजानी में टीका एक्सप्रेस, मक्खातकिया, शिशु विद्या मंदिर राजेन्द्र कोलोनी, एपीएचसी ढोलबज्जा, बालभारती गौशाला रोड इंग्लिश मीडियम, साहू परवत्ता में वैक्सिनेशन सेंटर बनाया गया है. डॉ बरुण ने कहा कि साहू परवत्ता में कोवैक्सीन का सेकेंड डोज दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है