January 23, 2022

Naugachia News

THE SOUL OF THE CITY

डेल्टा वैरिएंट जितना 100 दिन में, बोत्सवाना 15 दिन में फैला, 12 देशों से आने वालों की निगरानी होगी

कोरोना के नए वैरिएंट बोत्सवाना (B.1.1.529) की शुरुआती रिपोर्ट्स बेहद चौंकाने वाली हैं। डब्ल्यूएचओ ने इसे वैरिएंट ऑफ कन्सर्न बताते हुए ‘ओमिक्रॉन’ नाम दिया है। द. अफ्रीका के 3 प्रांतों में रोज मिलने वाले 90% केस इसी वैरिएंट के हैं, जो 15 दिन पहले सिर्फ 1% थे। वैज्ञानिकों को यही बात सबसे ज्यादा डरा रही है। क्योंकि, अभी तक सबसे तेजी से फैलने वाला वैरिएंट डेल्टा था, जिससे दुनिया में तीसरी लहर आई थी। अब बोत्सवाना यानी ओमिक्रॉन से नई लहर का खतरा है, क्योंकि यह डेल्टा से 7 गुना तेजी से फैल रहा है। यही नहीं, यह तेजी से म्यूटेट भी हो रहा है। पकड़ में आने से पहले ही इसमें 32 म्यूटेशन हो चुके हैं। इसे देखते हुए यूरोपीय यूनियन के सभी 27 देशों ने 7 अफ्रीकी देशों से उड़ानों पर रोक लगा दी है। इधर, भारत में नए वैरिएंट का कोई केस नहीं मिला है। फिर भी सिंगापुर, मॉरिशस समेत 12 देशों से आने वाले यात्रियों की गहन जांच होगी।

ब्लैक फ्राइडे }भारत समेत एशिया, अमेरिका, यूरोप के शेयर बाजारों में अप्रैल के बाद सबसे बड़ी गिरावट

नए वैरिएंट का डर एशिया के शेयर बाजारों में भी देखने को मिला। शुक्रवार को भारतीय बाजार बंद होने तक सेंसेक्स 1,687.94 अंक (2.87%) गिरकर 57,107.15 अंक पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 509.80 अंक (2.91%) गिरकर 17,026.45 अंकों पर बंद हुआ। शेयर बाजार में यह इस साल अप्रैल के बाद एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट रही। 19 अक्टूबर को 62,245 अंक का उच्चतम स्तर छूने के बाद से सेंसेक्स 9% गिर चुका है। इस साल की यह तीसरी बड़ी गिरावट है। यह बताता है कि बाजार में अस्थिरता है।

भारत ने कहा-सामान्य अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 15 दिसंबर से शुरू होंगी

नई दिल्ली | भारत की अंतरराष्ट्रीय उड़ानें 15 दिसंबर से सामान्य रूप से शुरू हाेंगी। हालांकि जिन देशाें में काेराेना महामारी का संक्रमण फैल रहा है, वहां उड़ानें प्रतिबंधित रहेंगी। ऐसे 14 देश हैं। सरकार ने तैयारी शुरू कर दी है। गुरुवार को देश में 10,549 नए संक्रमित मिले, जो एक दिन पहले के मुकाबले 15.6% अधिक हैं।

जीनोम सीक्वेंसिंग ने चौंकाया

{दुनिया में संक्रमण की पिछली लहर का कारण डेल्टा था। बोत्सवाना डेल्टा से 7 गुना संक्रामक है। आशंका है कि बोत्सवाना नई लहर ला सकता है।

{वैज्ञानिकों का दावा है कि बोत्सवाना सबसे तेज फैलने वाला वैरिएंट है। वैक्सीन इसे रोकने में कारगर नहीं है। इसीलिए दुनिया की चिंता बढ़ गई है।

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है