January 24, 2022

Naugachia News

THE SOUL OF THE CITY

इंटर की परीक्षा में नही फैलेगा संक्रमण! बिहार बोर्ड ने किया ये इंतजाम.. हेल्पलाइन नंबर जारी

इंटरमीडिएट की प्रायोगिक परीक्षा के दौरा संक्रमण के खतरे से छात्र छात्राओं को बचाने के लिए बिहार बोर्ड ने ठोस उपाय किया है। सर्दी जुकाम वाले छात्र को अलग बैठाकर प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी। अगर किसी छात्र को बुखार आदि का लक्षण होगा तो ऐसे छात्र को 15 जनवरी के बाद प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी। परीक्षा के पहले हर दिन छात्रों के शरीर का तापमान जांचा जाएगा। ज्ञात हो कि इंटरमीडिएट प्रायोगिक परीक्षा दस से 20 जनवरी तक चलेगी। इसको लेकर तमाम स्कूलों द्वारा तैयारी कर ली गयी है।

कोरोना गाइडलाइन के तहत प्रायोगिक परीक्षा ली जायेगी। पटना हाईस्कूल में 350 छात्रों की परीक्षा ली जायेगी। हर दिन 60 बच्चों को बुलाया गया है। पटना कॉलेजिएट हाईस्कूल में चार सौ से अधिक छात्र इसमें शामिल होंगे। स्कूलों द्वारा शेड्यूल जारी कर दिया गया है। शेड्यूल के अनुसार ही बच्चों को बुलाया गया है। 20 जनवरी को परीक्षा समाप्त होने के बाद 25 जनवरी तक प्रायोगिक परीक्षा का अंक बोर्ड पास भेजा जायेगा।

हेल्पलाइन नंबर जारी

प्रायोगिक परीक्षा को लेकर बिहार बोर्ड द्वारा कंट्रोल रूम चालू किया है। यह कंट्रोल रूम नौ से 20 जनवरी तक चालू रहेगा। प्रायोगिक परीक्षा संबंधित किसी तरह की दिक्कतें होने पर सुबह नौ से शाम छह बजे तक कंट्रोल रूम काम करेगा। बोर्ड द्वारा 0612-2232227 हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है।

सामग्री 13 तक जाएगी स्कूल

मैट्रिक वार्षिक परीक्षा 2022 के इंटरनल मूल्यांकन और प्रायोगिक परीक्षा 20 से 22 जनवरी तक विद्यालयों में आयोजित की जायेगी। इसके लिए सभी सामग्री जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में भेजी जा चुकी है। इसके साथ ही परीक्षक एवं प्रधान परीक्षक के औपबंधिक नियुक्ति पत्र भी विद्यालयवार भेजा जा चुका है। सभी स्कूल 13 जनवरी तक सामग्रियों को प्राप्त कर लेंगे। इसमें प्रति विद्यालय छात्रों की संख्या के पांच प्रतिशत एवं इसके अतिरिक्त दो प्रतिशत जिला शिक्षा पदाधिकारी के लिए आपूर्ति की गयी है।

चोर चोर चोर.. कॉपी कर रहा है