किसी नेता की हत्या करने की नहीं ली थी सुपारी ये महज अफवाह

भागलपुर : कुख्यात छाेटुआ को शुक्रवार को सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया. उसे वहां से जेल भेज दिया गया. कोर्ट परिसर में छोटुआ ने कहा कि उसने किसी नेता की सुपारी नहीं ली थी. उसने साफ कहा कि उसका किसी नेता से कोई लेना देना नहीं. वह न तो किसी नेता के खिलाफ रहा है और न ही किसी नेता का उसे संरक्षण प्राप्त है. उसका कहना है कि नेता के साथ रहने का मतलब है कि जितनी जल्दी लोग ऊपर उठते हैं उतनी ही जल्दी नीचे गिर जाते हैं.

1-57

छोटुआ ने यह भी कहा कि उस पर जितने आपराधिक मामलों का आरोप लगाया जा रहा है उनमें से कुछ में ही वह शामिल रहा है. चर्चित विनोद यादव हत्याकांड, नवगछिया के व्यवसायी ललन कुमार साह हत्याकांड के अलावा कई अन्य आपराधिक मामलों में छोटुआ आरोपी रहा है. वह छह मामलों में फरार चल रहा था. भागलपुर पुलिस, नवगछिया पुलिस और एसटीएफ ने मिल कर छोटुआ को चंपानाला पुल के पास से गिरफ्तार किया. उसे और उसके साथी राहुल को पुलिस ने हथियार और कारतूस के साथ गिरफ्तार किया. उधर नवगछिया पुलिस कई मामलों में छोटुआ को रिमांड पर लेने की तैयारी में है. नवगछिया एसडीपीओ मुकुल कुमार रंजन ने कहा कि बहुत जल्दी छोटुआ के रिमांड के लिए कोर्ट में अर्जी दी जायेगी.

मेरे दो भाइयों को मार दिया, अब अपराधी ही बना रहूंगा
छोटुआ ने कहा कि उसके दो भाइयों को मार दिया गया था. उसके बाद ही वह अपराध जगत में आया. उसका कहना है कि उसके भाइयों की हत्या के बाद उसके पास दो ही रास्ते थे या तो वह अपराध में कदम रखता या अपनी जमीन बेच कर यहां से चला जाता. छोटुआ ने कहा कि वह भागा नहीं और यहीं रहकर अपराध की दुनिया में कूद गया. उसने साफ कहा कि अब वह पीछे नहीं मुड़ने वाला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......