" />
Published On: Mon, Nov 27th, 2017

नवगछिया में बढ़ते अपराध को लेकर जगह-जगह सीएम का पुतला फूंका-Naugachia News

खरीक: नवगछिया पुलिस जिले में एक के बाद एक हो रहे वारदातों के विरोध में रविवार को खरीक के तुलसीपुर गांव में 14 नंबर सड़क पर नवयुवकों ने मुख्यमंत्री का पुतला फूंक डाला. पुतला दहन कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे वार्ड संघ के उपाध्यक्ष युवा नेता सज्जन भारद्वाज ने कहा कि अब नवगछिया के लोग अपने घरों में भी सुरक्षित नहीं है.

दिन दहाड़े, सरे शाम हत्याएं हो रही है. पुलिस प्रशासन जैसे संस्थान की भूमिका अब मूकदर्शक से अत्यधिक कुछ नहीं है. युवाओं ने कहा कि सरकार को बताना चाहिये कि आखिर कौन सा स्थान अब सुरक्षित है. वहां जा कर लोग जान बचा लेंगे. इस अवसर पर झंडापुर में हुए नरसंहार करने वाले लोगों और भवानीपुर में हुए चंद्रशेखर यादव के हत्यारे को जल्द से जल्द गिरफ्तार करें

अन्यथा वे लोग धार दार आंदोलन करने को बाध्य हो जायेगे. इस अवसर पर छात्र लोक समता नवगछिया जिला अध्यक्ष सहवाग, सज्जन भारद्वाज, सोनू सरकार, नीरज, कन्हैया, निक्की, गोपी, मोहम्मद जमशेद, रजनीश तिवारी, मोहम्मद शाहनवाज हाशमी, मोहम्मद शहाबुद्दीन, मोहम्मद ताहिर, रुपेश ठाकुर, प्रशांत सभी मौजूद थे.

वही प्रखंड के राष्ट्रीय राजमार्ग 31 नारायणपुर बसस्टैंड पर रविवार को झंडापुर में सामुहिक हत्याकांड को लेकर दलित नेता अजय रविदास के नेतृत्व में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला फूंका व पुलिस प्रशासन के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की. मौके पर अन्य महादलित समुहों ने झंडापुर के कनिक राम सहित अन्य के सामुहिक हत्यारे की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की और कहा लगातार हत्या की दौर नवगछिया पुलिस जिले में थमने का नाम नहीं ले रहा है

जो सुशासन सरकार की पोल खोल रहा है.वहीं अनिल रविदास ने हत्याकांड की सीबीआई जाँच की मांग की व नवगछिया पुलिस हत्याकांड का पर्दाफाश नहीं करेंगें तो दलित समाज उग्र आंदोलन व चक्का जाम के लिए मजबुर होगी मौके पर गोविंद रजक, सुमन रजक, सुरज पासवान, प्रमोद शर्मा, अनिल रविदास, सुमित कुमार, चंदन ठाकुर, मधुर मिलन नायक, प्रमोद शर्मा सहित अन्य मौजूद थे.

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......