" />

हॉरर किलिंग: बिहार में युवती को पहले पीट-पीटकर मार डाला, फिर तेल डालकर जला दिया

बिहटा में हॉरर किलिंग का मामला सामने आया है। बदचलन होने का आरोप लगाकर घरवालों ने पहले युवती को बेरहमी से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया फिर तेल छिड़क कर शव को जला दिया। इस खौफनाक वारदात को घर में अंजाम देने के बाद परिजन गाड़ी में शव लादकर बालू घाट ले गए और दफना दिया।

हॉरर किलिंग की जानकारी मिलते ही बुधवार को पुलिस ने बिहटा के केलहनपुर बालू घाट से युवती का अधजला शव बरामद कर लिया। शव की शिनाख्त होते ही थानेदार रंजीत कुमार सिंह युवती के घर पहुंचे, लेकिन तब तक उसके पिता, भाई समते अन्य परिजन घर छोड़कर भाग गए। घर में सिर्फ उसकी भाभी थी। घर से युवती के जले कपड़े मिलने पर पुलिस ने भाभी को हिरासत में ले लिया। वहीं, शव को ठिकाना लगाने में मदद के करने वाले जीप चालक पारसनाथ महतो को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं, पुलिस जीप भी जब्त कर थाने ले आई।

भाभी बोली- समझाने के बाद भी नहीं सुधर रही थी
युवती की भाभी ने पुलिस को बताया कि जब यह सबकुछ हो रहा था उस वक्त वह दूसरे कमरे में थी। आरोपित महिला ने कहा कि उसकी ननद के कई लड़कों से संबंध थे। कई बार उसे मना किया गया, लेकिन वह नहीं सुधर रही थी। बदनामी से परेशान होकर परिजनों ने मंगलवार की देर रात घर में उसे बेरहमी से पीटा। इसके बाद उसकी हत्या कर लाश बालू घाट पर छिपा दी गई। मगर हड़बड़ी के कारण लाश ठीक से नहीं छिपाई जा सकी। सिर्फ शव को बालू से ढंक दिया गया था।

पटना एसएसपी मुन महाराज ने बताया कि घर में ही युवती की हत्या की गई है। पुलिस की छानबीन में कई चीजें सामने आई हैं। आरोपितों की तलाश में बिहटा पुलिस छापेमारी कर रही है। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

शव का अंतिम संस्कार करने वाला कोई नहीं
घटना के बाद परिजनों के भाग जाने के बाद युवती के शव का अंतिम संस्कार करने वाला भी कोई नहीं बचा है। मानवता के आधार बिहटा थानेदान ने कुछ जनप्रतिनिधियों से बात की, ताकी युवती के शव का अंतिम संस्कार हो सके। उधर, घटना के बाद ग्रामीणों में कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं।

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......