1

मौसम विभाग ने 20 राज्य को 20 अप्रैल के लिए आंधी-बारिश के साथ ओलावृष्टि का अलर्ट किया जारी

उत्तर बिहार के कई जिलों में कालबैखासी कहर बनकर बरपा। शुक्रवार की रात तेज आंधी-बारिश हुई ओलावृष्टि ने आम, लीची और गेहूं की फसल को भारी नुकसान पहुंचाया। राज्य के पूर्वी भाग में भी एक-दो जगहों पर तेज आंधी और बारिश की स्थिति रही। वहीं, मौसम विभाग ने 20 अप्रैल के लिए आंधी-बारिश के साथ ओलावृष्टि का अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग की ओर से घंटे दो घंटे पर विभिन्न जिलों के लिए अलर्ट जारी किया जाता रहा। सुपौल, मधुबनी, चंपारण, सीतामढ़ी और आसपास के इलाके में ओले के आकार डरावने थे। इससे फसलों को भारी क्षति पहुंची है। मुजफ्फरपुर में भी शुक्रवार की देर रात तेज आंधी-बारिश के बाद ओले गिरे। मौसम विज्ञान केंद्र की मानें तो यह कालबैशाखी के प्रभाव वाला समय है। पुरवा हवा के कारण वातावरण में तेजी से नमी की मात्रा बढ़ी और बादलों का बनना तेजी से हुआ। वातावरण में अनुकूल घर्षण की परिस्थितियां न बनने की वजह से ओले का आकार इतना बड़ा रहा।

क्यूमलो निम्बस बादलों की वजह से तबाही

मौसमविदों का कहना है कि पिछले कुछ वर्षों में बिहार के कई हिस्सों में एक विशेष का बादल क्यूमलो निम्बस बादलों की बनने की प्रक्रिया में तेजी आई है। दोपहर में तापमान में बढ़ोतरी होने से पृथ्वी तेजी से गर्म ही रही और शाम तक इन बादलों का कहर देखने को मिल रहा। इस वजह से इन बादलों ने जनजीवन पर प्रतिकूल असर डाला है।

20 को राज्य के कई हिस्सों में अलर्ट

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर कहा है कि 20 अप्रैल को राज्य के अधिकतर हिस्सों में आंधी-बारिश की स्थिति रहेगी। कहीं-कहीं ओलावृष्टि भी हो सकती है। 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे हवा की गति रहने के आसार हैं। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक, 18 और 19 अप्रैल को भी इसका असर कुछ जिलों में दिख सकता है।

पटना में चढ़ा पारा

मौसम में बदलाव का असर राजधानी में भी असर दिखा। शनिवार की सुबह आसमान में बादल छाए रहे और ठंडी हवा चलती रही। पटना में सुबह में आर्द्रता 81 प्रतिशत तक पहुंच गयी। दोपहर में धूप तल्ख हुई और पारे में एक से दो डिग्री की बढ़ोतरी देखी गई। अधिकतम पारा भी 37.2 डिग्री दर्ज किया गया। रविवार के मौसम पूर्वानुमान में बताया गया है कि पटना में बादल छाए रहेंगे। आंधी-बारिश की स्थिति बन सकती है। भागलपुर और पूर्णिया में भी बादल छाए रहेंगे। गया में आंशिक बादल रहेंगे और धूल भरी आंधी के बाद बारिश हो सकती है।

कहां हुई कितनी बारिश

फारबिसगंज में 23.2 मिमी, सुपौल में 21.6 मिमी, पूर्णिया में 10.8 मिमी, भीमनगर में 6.2 मिमी, बीरपुर में 5.2 मिमी, तैयबपुर में 4.6 मिमी, जबकि सबौर में 4.2 मिमी बारिश दर्ज की गई।

न्यूज़ डेस्क

न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *