मौसम का मिजाज: पटना समेत बिहार के 15 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

मानसून की सक्रियता से बिहार के अधिकतर हिस्सों में पिछले 48 घंटों में भारी बारिश हुई है। इस वजह से राज्य के उत्तरी और उत्तरी पश्चिम भाग में जनजीवन पर काफी असर पड़ा है। मौसम विज्ञान विभाग ने अगले 48 घंटों तक 15 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। ये जिले हैं- पूर्वी चम्पारण, पश्चिमी चंपारण, शिवहर, सीवान, गोपालजंग, सीतामढ़ी, सुपौल, दरभंगा, मधुबनी, अररिया, किशनगंज, समस्तीपुर, कटिहार, पूर्णिया, मुजफ्फरपुर ।

फसलों को नुकसान
खेतों में खड़ी धान की फसलों को भी नुकसान पहुंचा हैं। कई नदियों के जलस्तर में भी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। पिछले 24 घंटों में पटना सहित सूबे में दिनभर बादल गरजते रहे तो कभी तीव्रता और कभी धीमी बारिश होती रही। मौसम विभाग के अनुसार अभी सूबे में बारिश से राहत के आसार नहीं हैं और राज्य के अधिकांश भागों में भारी बारिश की स्थिति बनी रहेगी।

पटना में भी भारी बारिश
अगले 48 घंटों में उत्तर बिहार के कई जिलों में तथा गंगा नदी से सटे जिलों में एक-दो स्थानों पर भी भारी बारिश की आशंका है। पटना व उसके आसपास के इलाकों में अगले 48 घंटे तक मध्यम से भारी बारिश की स्थिति रह सकती है। राज्य भर के नागरिकों को चेतावनी जारी कर कहा गया है कि मौसम खराब होने की स्थिति में उचित सावधानी बरतें और बिना ज़रूरी काम के घर से बाहर न निकलें।

इन जिलों में हुई बारिश
फारबिसगंज में 225.8 मिमी, नागरा 183.5 मिमी, जलालपुर 164.75 मिमी, बड़हरा में 155.5 मिमी, बलरामपुर में 145 मिमी, टेढ़ागाछ(किशनगंज) 144 मिमी दर्ज की गई।

यहां भी हुई 120 से 140 मिमी बारिश
गौनाहा, बैकुंठपुर, गुठनी, सकटी, बनियापुर, बैरगनिया, सोनबरसा

100 से 120 मिमी तक यहां हुई बारिश
हवेली खड़गपुर, बहादुरगंज, कोचाधामन, मेकर, गरखा(सारण), बनमनखी, बथनाहा(सीतामढ़ी)

क्यों इतनी बारिश
मौसम विज्ञानी शैलेन्द्र कुमार पटेल ने बताया कि पूर्वी उत्तर प्रदेश के मध्य की ओर समुद्र तल से 5.8 किमी ऊंचाई पर कम दबाव के चक्रवाती परिसंचरण की स्थिति बनी है। अगले 48 घंटों में पूर्व और उत्तर पूर्व की ओर बढ़ने के आसार हैं। इसके प्रभाव से अगले 48 घंटों तक पूरे बिहार में मानसून के अति सक्रिय रहने के आसार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......