भागलपुर : वासंतिक चैत्र नवरात्र 13 अप्रैल से शुरू.. प्रतिमा बैठेगी, लेकिन सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं हाेंगे

इस बार वासंतिक चैत्र नवरात्र 13 अप्रैल से शुरू हाे रहा है। यह 22 अप्रैल तक चलेगा। रामनवमी 21 काे हाेगी। पूजा समितियाें ने बैठक कर पूजा की तैयारी शुरू कर दी है। जुट गए है। पिछले साल कई जगहाें पर प्रतिमा बनाए जाने के बावजूद भी काेराेना संक्रमण के कारण उसकी स्थापना नहीं की जा सकी थे। इस बार भी मशाकचक दुर्गाबाड़ी, तिलकामांझी हटिया, तिलकामांझी चाैक, जवारीपुर, जिच्छाे दुर्गामंदिर, बूढ़ानाथ, मानिकपुर दुर्गास्थान, हुसैनाबाद बाल्टी कारखाना, महमदाबाद, अलीगंज, मनसकामनानाथ सहित अन्य जगहाें पर दुर्गा पूजा की तैयारी चल रही है।

दुर्गाबाड़ी मशाकचक में रविवार काे इसके लिए बैठक हुर्ई। जिसमें काेराेना संक्रमण काे ध्यान में रखते हुए चैत्र नवरात्र पर मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित कर पूजा-अर्चना का निर्णय लिया गया। लेकिन इस माैके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं हाेंगे। मशाकचक दुर्गाबाड़ी पूजा समिति के सचिव सुब्रताे माेइत्रा ने बताया कि सरकार के निर्देश व काेविड गाइडलाइन के अनुसार मूर्ति की स्थापना की जाएगी। बिना मास्क पहने किसी काे मंदिर के अंदर प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं हाेंगे। साेमवार काे सदर एसडीअाे काे नवरात्र से संबंधित अावेदन दिया जाएगा। मंदिर परिसर काे सैनिटाइज कराया जाएगा। बैठक में अध्यक्ष डाॅ. साेमेन चटर्जी सहित पूजा कमेटी के सदस्यगण माैजूद थे।

घाेड़ा पर अाएंगी मां दुर्गा, मनुष्य के कंधे पर जाएंगी

इस बार मां दुर्गा घाेड़ा पर अाएंगी अाैर मनुष्य के कंधे पर जाएंगी। घाेड़ा वर अागमन से राजनीतिक उथल-पुथल व कंधे पर जाने से अधिक वर्षा हाेने की संभावना है। इससे फसल भी अच्छी हाेगी। दुर्गामंदिर जिच्छाे के व्यवस्थापक दीपक सिंह ने बताया कि मंदिर में कलश स्थापन के साथ नाै दिनाें तक दुर्गासप्तशती का पाठ हाेगा। तिलकामंाझी चाैक स्थित महावीर मंदिर के पुजारी पं. अानंद झा ने बताया कि प्रतिमा स्थापित कर पूजा की जाएगी। समिति डाॅ. साधु शरण ने बताया कि सरकार के निर्देशाें का पालन हाेगा।

रामनवमी 21 काे रात्रि 6:57 बजे तक

ज्याेतिषाचार्य पं. मनाेज कुमार मिश्र ने बताया कि 13 अप्रैल से नवरात्र शुरू हाे रहा है। इसी दिन कलश स्थापन हाेगा। इस दिन प्रतिपदा दिन में 8:45 मिनट तक रहेगा। इस बार दस दिनाें तक नवरात्र हाेगा। महाष्टमी 20 अप्रैल रात्रि 7:07 बजे तक है। महानवमी 21 अप्रैल रात्रि 6:57 बजे तक रहेगा।

{कलश स्थापन का शुभ मुहूर्त 4:30 से 8:45 तक {अभिजीत मुहूर्त 11:36 से 12:24 बजे तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......