" />

भागलपुर : लूटपाट के दौरान अपराधियों ने क्रिकेटर को दौड़ा-दौड़ा कर मारी गोलियां

adv

भागलपुर : मोजाहिदपुर में शुक्रवार को प्रात: लूट का विरोध करने पर बेखौफ अपराधियों ने हबीबपुर के चमेलीचक निवासी क्रिकेटर मु. नदीम फैसल को तीन गोली मार दी। वे पटना से बांका इंटरसिटी ट्रेन से उतरकर अपने घर चमेलीचक की तरफ जा रहे थे। इस दौरान उनकी अपराधियों से हाथापाई भी हुई। लेकिन गोली लगने के कारण वे असहाय हो गए। इसका फायदा उठाकर अपराधी भागने में सफल रहे। मामले की जानकारी होते ही पुलिस जांच के लिए पहुंची। घटनास्थल से तीन गोली के खोखा पुलिस ने बरामद किया है। मामले में पुलिस ने एक संदिग्ध को उठाया है। नदीम पटना के वरिष्ठ पत्रकार एसए शाद के छोटे भाई हैं।

दो अपराधी थे शामिल
घायल नदीम से सिटी डीएसपी राजवंश सिंह ने मायागंज अस्पताल में घटना के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने बताया कि वे जब ट्रेन से उतरकर घर की तरफ जा रहे थे। पनसल्ला चौक के पहले एक मैदान के पास एक अपराधी ने उन्हें हथियार दिखाकर बैग छीनने लगा। लेकिन उन्होंने बैग देने से इंकार करते हुए उससे हाथापाई शुरू कर दी। वे मदद के लिए लोगों को चिल्ला रहे थे। काफी देर तक कोई नहीं पहुंचा। तब तक नदीम उसे उलझे अपराधी की मदद में उसका एक और साथी आ गया। दोनों ने मिलकर नदीम को और दो गोलियां दाग दी। तब वे जान बचाने के लिए अपने रिश्तेदार रजी अहमद के घर की तरफ भागे। तब तक अपराधी भाग निकले। अपराधी लूट में सफल नहीं हो सके।

जांच के लिए पहुंचे सिटी एसपी
मामले की जानकारी होने पर सिटी डीएसपी राजवंश सिंह घायल नदीम का हालचाल लेने मायागंज अस्पताल पहुंचे। उन्होंने पूरे घटना की जानकारी ली। इसके बाद सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज, सिटी डीएसपी समेत अन्य घटनास्थल पर पहुंचे। वहां आसपास के लोगों से संदिग्धों के बारे में पूछताछ की। मोजाहिदपुर इंस्पेक्टर राम एकबाल यादव और हबीबपुर इंस्पेक्टर राम एकबाल यादव ने घायल का बयान लिया है। घटना की जानकारी मिलते ही काफी संख्या में क्रिकेट से जुड़े लोग मायागंज अस्पताल पहुंचे थे।

एसएसपी आशीष भारती ने कहा कि अपराधियों की धरपकड़ के लिए सिटी डीएसपी के नेतृत्व में टीम का गठन कर दिया गया है। अपराधियों की धरपकड़ के लिए प्रयास जारी हैं।

मोजाहिदपुर में फिर से सक्रिय हो गए आपराधिक गिरोह
मोजाहिदपुर इलाके में फिर से आपराधिक गिरोह सक्रिय हो गया है। बेखौफ अपराधी आम लोगों को निशाना बनाने लगे हैं। सुबह सुबह लूट के लिए नदीम को गोली मारने की घटना से लोगों में भय का माहौल है। स्थानीय लोगों का कहना है कि इलाके के कुछ लड़कों ने जीना मुश्किल कर दिया है। उन लोगों के आतंक से कोई शिकायत भी करने की हिम्मत नहीं करता है। वहीं पुलिस का कहना है कि हाल ही में मु. रहमत कुरैशी, मु. टीपू आदि अपराधी जेल से जमानत लेकर बाहर निकले हैं। जो फिर से घटना को अंजाम देने लगे हैं। उनकी धरपकड़ के लिए लगातार प्रयास हो रहे हैं।

कोर्ट कर्मी दंपती को बनाया था निशाना
मोजाहिदपुर के ही अपराधियों ने कुछ दिनों पहले ट्रेन से उतरकर हबीबपुर जा रहे कोर्ट कर्मी दंपती को हथियार के बल पर लूट लिया था। इसमें शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेजा था। इसके अलावा मोजाहिदपुर में टिंकू मियां के गुर्गे छोटू-रहमत गिरोह ने आतंक मचा रखा था। इसमें से रहमत को लोगों ने पीट पीटकर पुलिस के हवाले कर दिया था। जबकि छोटू को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। इस गिरोह में टिंकू मियां का भाई मु. इजहार और इम्तियाज भी सक्रिय सदस्य था।

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......