भागलपुर में डिप्लोमा इन फार्मेसी की पढ़ाई जल्द, इंटर पास छात्र-छात्राएं कोर्स में ले सकेंगे नामांकन

भागलपुर : टीएमबीयू के छात्रों के लिए खुशखबरी है. विवि रोजगारपरक कोर्स की शुरुआत करने जा रहा है. विवि में डिप्लोमा इन फार्मेसी की पढ़ाई टीएनबी कॉलेज में शुरू होगी.

यह एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स होगा. इसमें इंटर पास छात्र-छात्राएं नामांकन करा सकेंगे. इसे लेकर विवि की बनी व्यावसायिक कोर्स की कमेटी ने विवि प्रशासन को प्रस्ताव दिया है.

प्रस्ताव पर अंतिम मुहर सीनेट की बैठक में लगनी है. इसके बाद राजभवन को प्रस्ताव भेजा जायेगा. सबकुछ ठीक रहा और राजभवन से मंजूरी मिल जाती है, तो इसी साल डिप्लोमा इन फार्मेसी की पढ़ाई टीएनबी कॉलेज में शुरू हो जायेगी.

कोर्स को लेकर तैयार की जा रही रूपरेखा

राजभवन को भेजे जाने वाले प्रस्ताव में कोर्स संबंधित रूपरेखा भी शामिल है. कितने छात्रों का नामांकन लिया जायेगा, कोर्स के लिए सीट की संख्या कितनी होगी, पढ़ाई के लिए शिक्षकों की व्यवस्था कैसे की जायेगी, इसे लेकर कोर्स संबंधित ब्लू प्रिंट तैयार किया जा रहा है.

क्या है डी फार्मेसी

डी फार्मेसी को डिप्लोमा इन फार्मेसी भी कहा जाता है. फार्मेसी विज्ञान बहुत प्रचलित कोर्स है. डी फार्मेसी दवा उत्पादन, मार्केटिंग, दवाओं की क्वालिटी, स्टोरेज व डिस्ट्रीब्यूशन का विज्ञान है.

वर्तमान में हेल्थ केयर मार्केट में फार्मेसी एक्सर्पट की काफी मांग है. इस कोर्स के लिए आवश्यक योग्यता 12वीं पास है. डी फार्मेसी कोर्स के बाद फार्मासिस्ट के तौर छात्रों को जॉब मिल सकता है.

इस कोर्स का डिमांड बहुत है : सीसीडीसी

विवि के सीसीडीसी डॉ केएम सिंह ने कहा कि कोर्स का डिमांड बहुत है. विवि में पढ़ाई शुरू होने से छात्रों को रोजगार मिलना शुरू हो जायेगा. यहां के छात्र बाहर जाकर डिप्लोमा इन फार्मेसी के कोर्स कर रहे हैं. इसमें छात्रों को काफी राशि खर्च हो रही है. टीएनबी कॉलेज में शुरू होने से यहां के छात्रों को काफी लाभ मिलेगा. विवि प्रशासन प्रयास कर रहा है कि इसी साल से कोर्स की पढ़ाई शुरू हो जाये.

फार्मेसी क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावना : डॉ राजीव

टीएनबी कॉलेज के कमेस्ट्री विभाग के शिक्षक डॉ राजीव सिंह ने कहा कि फार्मेसी क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावना है. वर्तमान समय मे डी फार्मेसी कोर्स करने के बाद फार्मेसी क्षेत्र में कैरियर बनाने की अपार संभावना है.

बाजार में फार्मेसी किये छात्रों की काफी मांग है. मेडिसिन के क्षेत्र में हर दिन नयी दवाओं की खोज हो रही है. इसी कारण से पिछले कुछ सालों से फार्मेसी एक्सपर्ट मेडिसिन रिसर्च व मेडिसिन बिजनेस में काफी अहम भूमिका निभा रहे हैं.

फार्मेसी सेक्टर में प्राइवेट व सरकारी दोनों क्षेत्रों में जॉब करने का मौका मिल सकता है. इसके अलावा फार्मासिस्ट के तौर पर मेडिकल स्टोर, हॉस्पिटल, क्लिनिक, नर्सिंग होम, ड्रग मैन्युफैक्चरिंग कंपनी में काम कर सकते हैं. खुद का मेडिकल स्टोर भी चला सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *