" />
Published On: Sat, Mar 23rd, 2019

भागलपुर : भाजपा नहीं, इस बार राजद- जदयू के बीच होगा सीधा मुकाबला, वर्तमान सांसद मैदान में

adv

दूसरे चरण की पांच सीटों पूर्णिया, कटिहार, भागलपुर, किशनगंज व बांका में इस बार मुकाबला दिलचस्प होगा. 18 अप्रैल को दूसरे चरण में इन सीटों पर वोट पडेंगे. 26 तक नामांकन की अंतिम तारीख है. सीमांचल की ये पांचों सीटें एनडीए में जदयू के खाते में गयी हैं. पूर्णिया से वर्तमान सांसद संतोष कुशवाहा ने जदयू उम्मीदवार के तौर पर नामांकन कर रखा है. महागठबंधन में किशनगंज व पूर्णिया से कांग्रेस, कटिहार से वीआइपी, भागलपुर और बांका से राजद के उम्मीदवार होंगे.

भाजपा नहीं, इस बार राजद- जदयू के बीच होगा सीधा मुकाबला

भागलपुर : भाजपा नहीं, इस बार राजद- जदयू के बीच होगा सीधा मुकाबला. दूसरे चरण में 18 अप्रैल को होनेवाले मतदान में इस बार चुनाव में भागलपुर में कमल चुनाव चिह्न नहीं दिखेगा. पूर्व केंद्रीय मंत्री शाहनवाज हुसेन समर्थकों को उम्मीद थी कि यह सीट भाजपा के खाते में ही रहेगी. पर, यह सीट जदयू को चली गयी है. जदयू से अजय मंडल संभावित उम्मीदवार के रूप में हैं. वहीं भागलपुर से राजद के वर्तमान सांसद बुलो मंडल चुनाव मैदान में होंगे.

1998 के चुनाव में भाजपा के प्रभाष चंद्र तिवारी ने राजद प्रत्याशी चुनचुन यादव को पराजित किया.2004 से 2009 के बीच हुए तीन चुनावों में भाजपा ने जीत की हैट्रिक लगायी थी. भाजपा से उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी व भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सह पूर्व केंद्रीय मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन प्रतिनिधित्व कर चुके हैं.

1996 से लेकर 2014 तक सात लोकसभा चुनाव हुए. उसमें चार बार भाजपा ने जीत दर्ज की. तीन बार दूसरे स्थान पर रही. भागलपुर लोकसभा सीट पर पहली बार भाजपा व लोजपा के साथ गठबंधन के तहत जदयू चुनाव लड़ रहा है. भागवत झा आजाद, बनारसी प्रसाद झुनझुनवाला ने भी यहां का प्रतिनिधित्व किया था.

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

adv
error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......