भागलपुर : दो माह में शुरू होगा विक्रमशिला सेतु के समानांतर पुल का निर्माण, अक्टूबर में आरंभ

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को गांधी सेतु के अप स्ट्रीम हिस्से के उद्घाटन समारोह में कहा कि जमीन अधिग्रहण में सहयोग कीजिए, हम बिहार की तस्वीर बदल देंगे। बिहार के विकास के लिए पैसे की कोई कमी नहीं है। पैसा कैसे खड़ा करना है इसका अनुभव मेरे पास है।

गडकरी ने कहा कि अगले दो महीने में बिहार में दस हजार 338 करोड़ की लागत से कई मेगा पुल प्रोजेक्ट पर काम आरंभ होगा। इनमें विक्रमशिला सेतु के समानांतर गंगा नदी पर पुल, मनिहारी-साहेबगंज पुल, बिहपुर-फुलौत ब्रिज आदि शामिल है। तीन हजार करोड़ की लागत से गांधी सेतु के समानांतर बनने वाले फोरलेन पुल का निर्माण कार्य भी अक्टूबर में आरंभ होगा।

गडकरी ने कहा कि गांधी सेतु के नवनिर्माण में जिस टेक्नोलॉजी का निर्माण किया गया है उसका इस्तेमाल देश में पहली बार हुआ है। यह स्टेट ऑफ द आर्ट टेक्नोलॉजी है।

सीएम ने एनएच को फोरलेन में तब्दील करने की मांग रखी

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से अनुरोध किया कि बक्सर से वाराणसी को जोड़ने के लिए पुल निर्माण की बात भी नहीं भूलना है। कहा, वर्ष 2017 में मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में हुए कार्यक्रम में दो अनुरोध किया था। एक अनुरोध था, भागलपुर के विक्रमशिला सेतु के समानांतर नए फोरलेन पुल के निर्माण का और दूसरा, बक्सर से वाराणसी के बीच सीधी कनेक्टिवटी के लिए पुल बनाने का। विक्रमशिला के लिए तो निविदा हो गई, लेकिन बक्सर-वाराणसी का मामला अभी आगे नहीं बढ़ा है। मुख्यमंत्री ने कई एनएच को फोरलेन में परिवर्तित किए जाने की बात भी रखी। मोकामा- लखीसराय-मुंगेर सड़क का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसकी लंबाई 64 किमी है। खगड़िया से पूर्णिया के बीच जो एनएच है उसे फोरलेन करना बहुत उपयोगी होगा, क्योंकि मुंगेर घाट और अगवानी घाट पुल बन जाने से इस सड़क पर ट्रैफिक लोड बढ़ेगा।

गांधी सेतु के अपस्ट्रीम लेन पर दौड़ने लगे वाहन, दूसरा लेन अठारह माह बाद होगा तैयार

गांधी सेतु के अपस्ट्रीम लेन पर शुक्रवार दोपहर बाद वाहन फर्राटा भरने लगे। केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन ग़डकरी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से इसका उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता की। पुल की लंबाई 5575 मीटर और इसकी लागत 1742 करोड़ रुपये है। अगले 18 महीने में डाउन स्ट्रीम लेन भी बनकर तैयार हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......