0

भागलपुर ऑरेंज जोन में थोड़ी छूट होगी.. आज से क्या-क्या होगा शुरू, सकेंगे अपना अपना काम

बिहार के ग्रीन और ऑरेंज जोन में शामिल 33 जिलों में ई कॉमर्स से कोई भी सामान मंगाया जा सकेगा। वहीं, रेड जोन में शमिल पांच जिलों में सिर्फ जरूरी सामान ही मंगा सकते है। केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशनिर्देशों के तहत ग्रीन, ऑरेंज और रेड जोन में हो सकने वाली गतिविधियों की जानकारी दी गयी है। इसके अनुसार तीनों जोन में शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक घर से बाहर निकलने, बुजुर्गों और 10 साल से छोटे बच्चों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध जारी रहेगा। वहीं, कंटेन्मेंट जोन में किसी प्रकार की छूट नही दी गयी है।

रेड जोन में नही होगा ऑटो रिक्शा का परिचालन

बिहार के रेड जोन में 5 जिलों में पटना, मुंगेर, रोहतास, बक्सर और गया शामिल है। इनमें चार पहिया वाहन में एक ड्राइवर सहित कुल 3 व्यक्ति चल सकेंगे। जबकि दुपहिया वाहन में सिर्फ एक व्यक्ति ही चलेंगे। साइकिल रिक्शा, ऑटो रिक्शा, टैक्सी और एप आधारित कैब नहीं चलेंगे। मोबाइल, व स्टेशनरी और कपड़े की दुकानें खुलेगी। 33 फीसदी स्टाफ के साथ निजी कार्यालय खुलेंगे। इलेक्ट्रिशियन, प्लम्बर, कारपेंटर सेवाएं शुरूं हो सकेगी। लेकिन स्पा और सैलून नहीं खुलेंगे। यात्री बसें नही चलेगी। आईटी सेवाएं और डेटा कॉल सेंटर खुलेंगे। जहां साइट पर श्रमिक होंगे वहाँ काम शुरू होगा।

ऑरेंज जोन के 20 जिलों में थोड़ी छूट होगी

बिहार के 20 जिले ऑरेंज जोन में है। इनमें थोड़ी छूट दी गयी है। इस जोन में नालन्दा, कैमूर, सीवान, गोपालगंज, भोजपुर, बेगूसराय, औरंगाबाद, पूर्वी चंपारण, भागलपुर, अरवल, सारण, नवादा, लखीसराय, बांका, वैशाली, दरभंगा, जहानाबाद, मधेपुरा और पूर्णिया शमिल हैं। इस जोन में चार पहिया में ड्राइवर सहित 3 व्यक्ति, दो पहिया पर 2 व्यक्ति चल सकेंगे। ऑटो रिक्शा इत्यादि चलेगा किंतु उस पर सवारी 3 ही होंगे। इस जोन में भी बसों का परिचालन नहीं होगा। बाकी 33 फीसदी स्टाफ के साथ निजी कार्यालय खुलेंगे, मोबाइल, इलेक्टिकल, प्लम्बर, कारपेंटर इत्यादि की दुकानें खुलेगी। कुरियर व पोस्टल सेवाएं जारी रहेगी। औद्योगिक गतिविधियां रेड जॉन की तरह ही जारी रहेगी।

ग्रीन जोन में 13 जिलों में यात्री बसें चलेंगी

ग्रीन जोन में बिहार के 13 जिले शामिल हैं। इस क्षेत्र में ऑरेंज जोन को दी गयी छूट के अतिरिक्त सिर्फ यात्री बसे चलाने की छूट दी गयी है। लेकिन इन क्षेत्रों में भी चार पहिया, दो पहिया और ऑटो रिक्शा , टैक्सी इत्यादि को लेकर ऑरेंज जोन की तरह ही मानक निर्धारित किये गए है। इस जोन में बिहार के अररिया, जमुई, कटिहार, खगड़िया, किशनगंज, मुजफ्फरपुर, पश्चिमी चंपारण, सहरसा, समस्तीपुर, शिवहर, सीतामढ़ी और सुपौल शामिल हैं।

न्यूज़ डेस्क

न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *