" />

बिहार : 48 हजार शिक्षकों की बहाली के लिए जुलाई में होगी पात्रता परीक्षा, पद के लिए न्यूनतम योग्यता…

पटना : अगले साल होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सरकार शिक्षकों के खाली पदों को भरने के लिए तेजी से आगे बढ़ रही है। दिसम्बर से पहले माध्यमिक एवं प्लस-टू विद्यालयों में कुल 48 हजार खाली पदों पर शिक्षकों की बहाली के लिए जुलाई में माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीईटी) ली जाएगी। विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन के निर्देश पर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने परीक्षा कार्यक्रम तय कर लिया है और इसे शीघ्र ही जारी किया जाएगा।

माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के मुताबिक माध्यमिक और प्लस-टू स्कूलों में शिक्षकों के खाली पदों को भरने की तैयारी का निर्देश दिया गया है। इसमें पंचायतों में अपग्रेड किए गए माध्यमिक एवं प्लस-टू स्कूल के 19 हजार पद शामिल हैं। इन स्कूलों में इसी शैक्षणिक सत्र से पढ़ाई आरंभ हो चुकी है जहां शिक्षकों की कमी है वहां पर गेस्ट फैकेल्टी के जरिये कक्षाएं संचालित हो रही हैं।

अभी जिन 32 हजार माध्यमिक एवं प्लस-टू स्कूलों मेंनियोजन प्रक्रिया चल रही है, उसमें करीब 29 हजार पद खाली रहने की संभावना है क्योंकि एसटीईटी पास अभ्यर्थी ही उपलब्ध नहीं हैं। इसलिए जुलाई में शिक्षक पात्रता परीक्षा लेकर सितम्बर में शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया आरंभ करने की तैयारी है। एसटीईटी की परीक्षा में माध्यमिक एवं प्लस-टू शिक्षकों के अभ्यर्थियों के लिए अलग-अलग दो पेपर होंगे।

माध्यमिक शिक्षक के अभ्यर्थियों के लिए प्रथम पेपर होगा। माध्यमिक शिक्षकों के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक और बीएड होगी। जबकि प्लस-टू शिक्षक पद के लिए अभ्यर्थियों की योग्यता स्नातकोत्तर और बीएड होगी।

सबसे ज्यादा विज्ञान विषय में नियुक्ति

प्लस-टू स्कूलों में गणित, भौतिक, रसायन, जन्तु विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, हिन्दी, अंग्रेजी के अलावा आर्ट फैकेल्टी विषय से संबंधित शिक्षकों की बहाली होगी। माध्यमिक स्तर विज्ञान, अंग्रेजी, गणित के अलावा अन्य विषयों में शिक्षकों की नियुक्ति होगी।

अगले साल से तीन हजार माध्यमिक और प्लस टू स्कूलों में होगी पढ़ाई

शिक्षा विभाग के मुताबिक राज्य की 3 हजार पंचायत ऐसी हैं जहां अभी माध्यमिक और प्लस टू स्कूल नहीं हैं। ऐसे पंचायतों में स्थापित मध्य विद्यालयों को अपग्रेड करने की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश जिलाधिकारियों को दिया गया है। ऐसे अपग्रेड स्कूलों में भी माध्यमिक एवं प्लस टू शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया इसी साल पूरी की जाएगी ताकि अगले साल अप्रैल से माध्यमिक स्तर की पढ़ाई शुरू की जा सके।

इसे लेकर अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने उच्चस्तरीय बैठक में नवंबर तक स्कूलों को अपग्रेड करने का काम पूरा करने का निर्देश दिया।

’>>दिसम्बर से पहले माध्यमिक एवं प्लस-टू विद्यालयों में खाली पदों पर हो जाएगी शिक्षकों की बहाली

’>>माध्यमिक शिक्षक पद के लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक और बीएड होगी

’>>प्लस-टू शिक्षक पद के लिए अभ्यर्थियों की योग्यता स्नातकोत्तर और बीएड होगी

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......