" />

बिहार : सुप्रीम कोर्ट में बेवफा रिया चक्रवर्ती की याचिका का विरोध करेगी बिहार सरकार

पटना : बिहार के बेटे सुशांत सिंह राजपूत के पक्ष में अब बिहार सरकार खुल कर सामने आ गयी है. सुप्रीम कोर्ट में फिल्म अभिनेत्री रिया चक्रबर्ती ने याचिका दायर कर गुहार लगायी है कि पटना के राजीव नगर थाने में सुशांत के पिता केके सिंह ने जो एफआईआर दर्ज कराया है उसे मुंबई स्थानांतरित किया जाये. बिहार सरकार ने इस याचिका का विरोध करने का निर्णय लिया है.

महाधिवक्ता ललित किशोर ने बताया कि जाने माने वरीय अधिवक्ता मुकुल रोहतगी सुप्रीम कोर्ट में बिहार सरकार की ओर से याचिका का विरोध करेंगे. बिहार सरकार की ओर से कैवियट दायर कर कहा गया है कि रिया की याचिका पर सुनवाई के समय उसका पक्ष भी सुना जाये. बिहार सरकार का कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने एफआईआर में जो आरोप लगाया है उसकी जांच के लिए बिहार पुलिस की टीम मुंबई में है और तहकीकात जारी है.

उल्लेखनीय है कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के सिलसिले में उनके पिता द्वारा पटना में दर्ज करायी गयी प्राथमिकी मुंबई स्थानांतरित करने के लिये अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती की याचिका में अब बृहस्पतिवार को बिहार सरकार ने भी उच्चतम न्यायालय में कैविएट दायर कर दी है. बिहार सरकार ने इस आवेदन में न्यायालय से अनुरोध किया है कि रिया चक्रवर्ती की याचिका पर कोई भी आदेश देने से पहले उसका पक्ष भी सुना जाये. बिहार सरकार ने अपने वकील केशव मोहन के माध्यम से कैविएट दायर की है.

इससे पहले, सुशांत सिंह राजपूत के पिता कृष्ण किशोर सिह ने भी अधिवक्ता नितिन सलूजा के माध्यम से न्यायालय में कैविएट दायर की थी. अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने बुधवार को शीर्ष अदालत में दायर याचिका में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को आत्महत्या के लिये उकसाने के आरोपों को लेकर पटना में 24 जुलाई को दर्ज करायी गयी प्राथमिकी मुंबई स्थानांतरित करने और बिहार पुलिस द्वारा की जा रही जांच पर रोक लगाने का अनुरोध किया है. 34 वर्षीय सुशांत का शव मुंबई के उपनगर बांद्रा में 14 जून को अपने अपार्टमेन्ट में छत से लटका मिला था. इसके बाद से ही मुंबई पुलिस विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रख कर इस मामले की जांच कर रही है.

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......