" />

बिहार का ये सिलेंडर वाला 3 बार लड़ चुका है लोकसभा सीट से चुनाव, इस बार फिर भरेगा हुंकार

adv

किशनगंज: लोकसभा चुनाव 2019 की रणभेरी बज चुकी है. बिहार में कई बड़ी पार्टियों के साथ, बड़ी हस्तियों की प्रतिष्ठा भी दांव में लगी है. वहीं कई ऐसे लोग भी हैं, जो चुनाव के दंगल में अपना शंखनाद करेंगे. इन्हीं में से हैं किशनगंज लोकसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी छोटे लाल.

गैस वेंडर छोटे लाल अब तक तीन बार लोकसभा चुनावों में अपनी किस्मत अजमा चुके हैं. 2004, 2009 और 2014 के आम चुनावों में किशनगंज से निर्दलीय प्रत्याशी रहे छोटे लाल के काम के बारे में सुनते ही लोगों को आश्चर्य होता है. दरअसल, छोटे लाल ठेले पर गैस सिलेंडर लादकर घर-घर पहुंचाने का काम करते हैं.

पिछली बार, ये था हाल
पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में छोटे लाल को करीब 11 हजार 400 वोट मिले थे. इसकी खास वजह, इनका पेशा माना जा रहा था. घर-घर सिलेंडर पहुंचाने वाले छोटे लाल की पहचान सभी वर्ग के लोगों से है. महिलाएं हो या पुरुष सभी इन्हें सिर्फ इसलिए जानते हैं, क्योंकि ये एक फोन कॉल मात्र से दूसरों के घरों का चूल्हा फिर से जला देते हैं.

ऐसे करते हैं प्रचार
अपने काम के साथ-साथ छोटे लाल समाजसेवा का काम भी करते रहे हैं. इस बार छोटे लाल फिर से लोकसभा चुनावों में खड़े हो रहे हैं. इसके लिए उन्होंने प्रचार-प्रसार करना भी शुरु कर दिया है. हालांकि, छोटे लाल गैस सिलेंडर बांटते फिर रहे हैं. वहीं, लोगों से मिलते हुए, वो प्रचार कार्य भी करते हैं.

छोटे लाल के वादे
छोटे लाल अपने प्रचार प्रसार में लोगों से यही कहते हैं कि अगर वो जीतते हैं तो किशनगंज में विकास के साथ-साथ युवाओं को रोजगार के नए आयाम देंगे. जूट मिल खोलेंगे. उनका कहना है कि इरादा मजबूत है. सांसद जरूर बनेंगे और लोगों की सेवा करेंगे.

विधानसभा चुनाव भी लड़े हैं
छोटेलाल ने बताया की 2000 मे पहली बार उन्हें विधान सभा चुनाव लड़ने की इच्छा हुयी. तब से अब तक सभी विधानसभा और लोकसभा चुनाव लड़ते आ रहे हैं. विधानसभा चुनाव 2000, 2005, 2010 और 2015 में भी उन्होंने चुनावों में अपने हाथ आजमाएं थे.

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

adv
error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......