" />

बम धमाकों से दहला पटना कॉलेज, दहशत हॉस्टलों में छात्र, छात्रों के बीच काफी देर तक रोड़बाजी

adv

पटना : छात्रा से कैंपस में बातचीत करने पर मिंटो हॉस्टल के छात्रों ने नदवी हॉस्टल के छात्र की पिटाई कर दी. इसके बाद बदले की कार्रवाई में इकबाल व नदवी हॉस्टल के छात्रों ने एक के बाद एक छह बम मिंटो हॉस्टल के पास पटना कॉलेज में पटके.

इस दौरान छात्रों के बीच काफी देर तक रोड़बाजी भी हुई. बम धमाकों से पूरा कैंपस थर्रा गया. पटना यूनिवर्सिटी कैंपस में इसको लेकर हड़कंप मचा हुआ है.

यूनिवर्सिटी के हॉस्टलों में रहने वाले छात्र घटना के बाद दहशत में हैं. पूरे कैंपस को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है. काफी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गयी है.

हॉस्टल छोड़ निकल गये छात्र : घटना दोपहर करीब पौने एक बजे हुई. बमों के धमाके के बाद मिंटो हॉस्टल के छात्र हॉस्टल छोड़ निकल गये. हॉस्टल के छात्र भी डरे हुए हैं कि कहीं फिर कोई घटना न हो. इसको लेकर छात्रों ने प्राचार्य को भी घंटो घेरे रखा, लेकिन कोई शिकायत आवेदन नहीं दिया.

यूनिवर्सिटी कैंपस में ही पीरबहोर थाना की टीओपी बनी हुई है. टीओपी की पुलिस टीम मौके पर पहुंची भी. आरोप है कि बमबाजी करने वालों को पुलिस टीम ने देखा भी लेकिन उन्हें पकड़ने की जगह मूकदर्शक बने थे. कैंपस में सीसीटीवी कैमरा भी लगा है. अब इसके फुटेज के आधार पर बमबाजी करने वालों की पहचान की जा रही है.

बदले की कार्रवाई में नदवी व इकबाल हॉस्टल के छात्रों ने ताबड़तोड़ छह बम फोड़े
दहशत का माहौल पुलिस छावनी में तब्दील हुआ कैंपस

पुलिस कर रही है कैंप
एहतियात के तौर पर पटना पुलिस ने एक वज्र वाहन की भी तैनाती यूनिवर्सिटी कैंपस में कर दी है. सिटी एसपी सेंट्रल के अनुसार पूरे मामले की जांच जारी है. जो भी दोषी होगा, उसे गिरफ्तार किया जायेगा.

सिटी एसपी सेंट्रल प्राणतोष कुमार दास खुद मौके पर पहुंचे और घटना का जायजा लिया. गिरफ्तारी की सूचना नहीं है. डॉग स्क्वाड व पुलिस टीम ने पटना कॉलेज के हॉस्टलों की जांच की लेकिन बम की बरामदगी नहीं हो पायी है.

कोई शिकायत नहीं
मामले को लेकर प्रशासन को पत्र लिखा जा रहा है. यह लॉ एंड ऑर्डर का मामला है. विवि के पास घटना को लेकर कोई भी शिकायत पत्र नहीं आया है.

मैं बात करूंगा
घटना को लेकर छात्र शिकायत करने आये थे, लेकिन छात्रों ने कोई भी लिखित शिकायत नहीं दी है. आगे इस तरह की घटना न हो इसके लिए हॉस्टलों में छात्रों से मैं बात करूंगा. सीसीटीवी कैमरे लगेंगे. प्रशासन को भी सख्ती के लिए पत्र लिखा जायेगा.
प्रो आरएस आर्या, प्राचार्य, पटना कॉलेज

विश्वविद्यालय में पहले भी हो चुकी है बमबाजी
पटना . पटना विश्वविद्यालय में हॉस्टल के छात्रों के बीच आपसी विवाद में बमबाजी की घटना पहले भी कई बार हो चुकी है. हॉस्टल के छात्र कुछ दिनों से शांत थे, लेकिन शुक्रवार को एक बार छेड़खानी की छोटी सी घटना ने फिर से पटना विश्वविद्यालय परिसर को धमाकों के गुबार से भर दिया.

पिछले साल रानीघाट इलाके में जमकर बमबाजी की घटना हुई थी. इसके अलावा मिंटो हॉस्टल व इकबाल हॉस्टल, मिंटो व जैक्शन हॉस्टल के छात्र आपस में भिड़ चुके हैं

. इस दौरान बमबाजी की घटना हुई. इन घटनाओं के अलावा हॉस्टल के छात्र स्थानीय लोगों से भी लड़ाई करते रहे हैं और इस दौरान भी फायरिंग और बमबाजी की घटना घटित हुई थी. दरभंगा हाउस में बमबाजी में एक महिला घायल हो गयी थी.

सैदपुर हॉस्टल के छात्रों की भी स्थानीय लोगों से बहादुरपुर इलाके में कई बार मारपीट व बमबाजी की घटनाएं हो चुकी है. पुलिस ने सैदपुर हॉस्टल की छत पर बम बनाने का सामान भी बरामद किया था. इसमें एक छात्र पुलिस को देख कर भागने के चक्कर में छत से कूद गया था और घायल हो गया था.

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

adv
error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......