0

नाव से बागमती नदी पार सुशांत सिंह राजपूत मुंडन कराने बोरने स्थित भगवती मंदिर पहुंचे

खगड़िया (चौथम) : सिने स्टार सुशांत सिंह राजपूत सोमवार को अपना मुंडन कराने बोरने स्थित भगवती मंदिर पहुंचे. जहां सुशांत सिंह राजपूत की एक झलक पाने के लिए खगड़िया के युवा और युवती बेताव दिख रहे थे. नाव से बागमती नदी पार अभिनेता अपने ननिहाल गांव बोरने स्थान पहुंचे थे. जहां ऐतिहासिक माता भगवती के मंदिर में सामाजिक रीति रिवाज के साथ सुशांत सिंह राजपूत का मुंडन संस्कार हुआ.

इस अवसर पर सुशांत सिंह ने कहा कि उनको मां का प्यार और बिहार की माटी ने खींच लाया है. उन्होंने कहा कि मां का आशीर्वाद और मां देवी का प्यार हमें यहां खींच लाया है. सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि यह इलाका आज भी पिछड़ा है. बिहार को विकास की अभी भी जरूरत है और हम सबों को मिलकर बिहार का विकास करने की जरूरत है. सुशांत सिंह ने कहा कि उनकी दो-तीन फिल्में आने वाली है.

हिंदू रीति रिवाज से हुआ मुंडन

33 वर्षीय सुशांत सिंह राजपूत का मुंडन संस्कार हिंदू रीति रिवाज से हुआ. बोरने पहुंचे अभिनेता सबसे माता भगवती मंदिर पहुंचे. मंदिर पहुंच कर सबसे पहले उन्होंने माता का दर्शन किया. फिर, ननिहाल स्थित घर में जाकर कुल देवी का आशीर्वाद लिया.

उसके बाद फिर मंदिर पहुंच कर समाजिक और हिंदू रीति रिवाज से उनका मुंडन संस्कार किया गया. हालांकि उनका एक ही लट (बाल) काटा गया.

सेल्फी लेने को बेताव थे लोग

सिने स्टार अपने ननिहाल 20 वर्षों के बाद पहुंचे थे. स्टार का एक झलक पाने को लोग बेताव थे. बता दें कि स्टार के इंतजार में बोरने गांव के लोग पलकें बिछाये बैठे थे.

इस दौरान उनका सेल्फी लेने के लिए रिश्तेदार सहित दर्शन को पहुंचे लोग बहुत परेशान थे. बाउंसरों और स्थानीय पुलिस को भीड़ को नियंत्रित करने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. मौके पर विधायक नीरज कुमार बबलू, एमएलसी नूतन देवी सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे.

न्यूज़ डेस्क

न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *