" />
Published On: Sun, Mar 17th, 2019

नवगछिया NH 31 पर यात्री से भरी बस रोका किया ड्राईवर का अपहरण, 6 घंटे बीच रोड पर खड़ी रही बस -Naugachia News

नवगछिया – रंगरा थाना क्षेत्र के मदरौनी चौक के समीप एन एच 31 सड़क मार्ग पर कलकत्ता से पूर्णीया जा रही एक यात्री बस से स्कार्पीओ द्वारा ओवरटेक करने के चक्कर में स्कार्पीओ में ठोकर लगने के बाद बस के चालक को गाड़ी से खींच कर स्कार्पीओ सवार तीन लोगों ने अपहरण कर लिया. बस चालक के अपहरण की सूचना मिलने के बाद रंगरा पुलिस द्वारा परबता एवं खरीक पुलिस के सहयोग से घेराबंदी कर परबत्ता थाना क्षेत्र के जमुनीयां गांव से छापेमारी कर अपहृत बस चालक को बरामद कर लिया गया.

पुलिस ने मौके से जमुनीयां गांव निवासी मो0 इश्तियाक नाम के एक लोगों को गिरफ्तार कर लिया. घटना को लेकर रंगरा थाने में बस के खलासी पूर्णीया निवासी नरेश बहादुर प्रधान के बयान पर मौके से गिरफ्तार जमुनीयां निवासी मो0 इश्तियाक के अलावा अन्य दो अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. गिरफ्तार किए गए आरोपीओं को रविवार को जेल भेजा जाएगा. अपहृत बस चालक भागलपुर जिले के शाहकुंड थाना क्षेत्र के किसनपुर गांव निवासी अनिल सिंह बताया जाता है जो आइटीयाना कंपनी का यात्रीयों से भरी बस को कलकत्ता से पूर्णीया लेकर जा रहा था.

चालक अनिल सिंह एवं खलासी ने पुलिस को बताया कि अपहृताओं ने उसके साथ बुरी तरह मारपीट भी किया है. उन लोगों के द्वारा जबर्दस्ती 20000 की रकम मांगी जा रही थी. चालक ने अपहृताओं के मोबाइल से ही अपनी पत्नी से बात कर घटना के बारे में बताया और मालीक को फोन कर रकम भेजने की बात कही. इसके बाद बस के खलासी के द्वारा इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई.

सूचना मिलते ही पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर अपहृत बस चालक को छापेमारी कर बरामद कर लिया. इस दौरान यात्रीयों से भरी बस मदरौनी चौक के समीप एन एच 31 सड़क मार्ग पर बीच सड़क पर दोपहर एक बजे से लेकर शाम छः बजे तक घंटों पड़ी रही. बाद में पुलिस द्वारा बस पर सवार यात्रीयों को अन्य वाहनों के सहारे उनके गंतव्य तक भेजा गया.

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

adv
error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......