नवगछिया : NH 31 पर कार हुई दुर्घटनाग्रसत.. पानी भरे गड्ढे में समायाए पुत्र समेत पिता की मौत

दो दिनों से लापता खगडिय़ा के मदारपुर निवासी फौजी खगेश पासवान और उनके पुत्र हिमांशु कुमार का शव शुक्रवार को बिहपुर में एनएच किनारे पानी भरे गड्ढे से बरामद किया गया। एक कार को भी पानी से निकाला गया। पिता-पुत्र 23 सितंबर की सुबह जलपाईगुड़ी से खगडिय़ा आने के लिए कार से निकले थे। शाम में बिहपुर पहुंचने पर उनका मोबाइल स्वीच ऑफ हो गया था, जिसके बाद फौजी के पिता शिवनंदन पासवान ने खगडिय़ा के महेशखूंट थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आशंका है कि कार दुर्घटनाग्रस्त होने और पानी में डूबने से पिता-पुत्र की मौत हुई है।

मड़वा गांव के ग्रामीणों की पड़ी थी नजर

सुबह में मड़वा गांव के ग्रामीणों की नजर पानी में उपलाते दो शवों पर पड़ी, जिसके बाद इलाके में सनसनी फैल गई। वहां भीड़ जमा हो गई। सूचना पर झंडापुर, बिहपुर और खरीक थाने की पुलिस पहुंची। शवों को बाहर निकालने के दौरान एक कार भी डूबी मिली। कार में बैग समेत अन्य घरेलू सामान थे। मौके पर एसडीपीओ दिलीप कुमार, इंस्पेक्टर नर्मदेश्वर ङ्क्षसह चौहन, बिहपुर थानाध्यक्ष रणजीत कुमार, खरीक थानाध्यक्ष पंकज कुमार, झंडापुर व भवानीपुर ओपी प्रभारी शिव प्रसाद रमानी व नीरज कुमार पुलिस बलों के साथ मौजूद थे।

कार दुर्घटनाग्रस्त होने से पिता-पुत्र की हुई मौत : एसडीपीओ

एसडीपीओ दिलीप कुमार ने बताया कि फौजी खगेश की पत्नी निशा देवी व तीनों बेटे हिमांशु,प्रियांशु व मोहित जलपाईगुड़ी में किराए के घर में रहते हैं। 20 सितंबर को खगेश छुट्टी लेकर जलपाईड़ी आए थे। 23 को अपनी सफेद रंग की इंडिगो कार (सीएच01एजेड 4192) से पिता-पुत्र मदारपुर आ रहे थे। इसी दौरान दुर्घटना के शिकार हो गए। कार में बैग समेत सभी घरेलू सामान मिले हैं। इससे यह स्पष्ट होता है कि पिता-पुत्र के साथ छिनतई या लूटपाट की घटना नहीं हुई है। 23 सितंबर की शाम पौने छह बजे कार तेतरी टॉल प्लाजा से गुजरी है, जिसका सीसीटीवी फुटेज है। दस मिनट के बाद फौजी से स्वजन की मोबाइल पर भी बात हुई थी। इसके बाद मोबाइल स्वीच ऑफ हो गया था। बिहपुर थाना के झंडापुर ओपी क्षेत्र में मोबाइल का अंतिम लोकेशन मिला था। इसी आधार दोनों की खोजबीन की जा रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......