" />
Published On: Tue, Jun 11th, 2019

नवगछिया: सड़क जाम का फायदा उठा ट्रक चालकों और राहगीरों से होती है लू’टपाट -Naugachia News

कुर्सेला पुल पर हुई दुर्घटना के बाद दूसरे दिन सोमवार को भी एनएच 31 पर जाम की भयावह स्थिति बनी रही। रविवार की देर रात से लगा जाम सोमवार के दोपहर तक लगा रहा। दोपहर में पुलिसकर्मियों के द्वारा एक-एक कर वाहनों को निकाले जाने के बाद कुछ समय के लिए वाहनों का परिचालन शुरू हुआ लेकिन फिर से वही स्थिति बन गयी।.

सड़क जाम में पहले भी हुई है लूट की घटनाएं

रविवार की रात्रि से कुर्सेला से नवगछिया तक लगे भीषण जाम में रविवार की रात 11 बजे से सोमवार की सुबह छह बजे तक मुजफ्फरपुर के जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष भी फंसे रहे। सात घंटे से अधिक समय तक जाम में फंसे रहने के बाद नवगछिया एसडीओ मुकेश कुमार ने रंगरा थानाध्यक्ष प्रमोद साह को फोन कर जिलाधिकारी को सुराक्षित बाहर निकलवाने की व्यवस्था करने का निर्देश दिया। उन्हें बाइक से जाम से निकाला गया। थानाध्यक्ष प्रमोद साह द्वारा जिलाधिकारी के वाहन को वनवे रूट के तहत नवगछिया तक निकलवाया। वहीं पुलिसकर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी।.

ट्रक चालकों को नहीं मिल रहा खाना, पानी की भी किल्लत : नवगछिया से कुर्सेला तक लगे भीषण जाम में दो दिनों से फंसे ट्रक चालकों का भूख-प्यास से बुरा हाल है। ट्रक वैसे स्थानों पर फंसा हुआ है कि जहां दूर-दूर तक भोजन मिलने का कोई उपाय नहीं है। सड़क के किनारे कुछ लोगों द्वारा झालमूढ़ी, चाय, गुटखा की दुकान खोली गयी है। चालक झालमूढ़ी खाकर व चाय पीकर अपना समय निकाल रहे हैं।

धूप में छोटे बच्चों के साथ सड़क पर पैदल चल रहे लोग: रजाम में छोटे-छोटे बच्चों के साथ उनके माता-पिता तपती धूप में एनएच 31 पर पैदल चलने को मजबूर हैं। जाम के कारण आम और लीची के दामों मे तेजी से बढ़ोतरी हो गई है। जाम के कारण व्यापारी लीची और आम लेकर नवगछिया आने के बजाय भागलपुर या खगड़िया भेज रहे हैं जिससे रविवार को जहां नवगछिया बाजार में लीची प्रति सैकड़ा 80 रुपये बिक्री हो रहा था। वहीं सोमवार को बाजार में लीची के दाम एक सौ 30 रुपये तक पहुंच गया। वहीं आम की कीमत में भी बढ़ोतरी देखी गई और सोमवार के शाम होते-होते बाजार से बढ़िया आम लगभग खत्म हो गया।

नवगछिया। सड़क जाम का फायदा उठाते हुए ट्रक चालकों के अलावे राहगीरों से लूटपाट की घटनाएं नवगछिया में आम बात हो गयी है। पूर्व में भी सड़क जाम में लूटपाट और हत्या की घटनाएं घटी है। विक्रमशिला सेतु पहुच पथ पर जाम में फंसे चालकों से लूटपाट की घटना के बाद ट्रक चालकों ने हंगामा और सड़क जाम भी किया था। एक माह पूर्व पहंुच पथ पर जाम के दौरान लूटपाट कर रहे बदमाशों को पहचान लेने के बाद पुजारी गोपाल झा की चाकू गोद कर हत्या कर दी गयी थी।

परबत्ता पुलिस ने आरोपी लुटेरे को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। वर्ष 2011 में सड़क जाम के दौरान पहुंच पथ पर हथियारबंद बदमाशों द्वारा लगभग एक दर्जन वाहन चालकों से लूटपाट की गई थी। घटना के बाद चालकों ने दूसरे दिन सड़क जाम कर हंगामा किया था। छह माह पूर्व एनएच 31 पर लगनेवाले जाम के दौरान कई स्थानों पर बदमाशों ने लूटपाट की घटनाओं को अंजाम दिया था। .

About the Author

- न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.....

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

error: भाई जी कॉपी नय होतोन .......