नवगछिया : लोकसभा चुनाव से पूर्व चौसा पुलिस को बड़ी सफलता, तीन कट्टा और 7 कारतूस के साथ गिरफ्तार -Naugachia News

विहान सिंह, नवगछिया : लोकसभा चुनाव से पूर्व चौसा पुलिस को बड़ी सफलता मिली। नवगछिया के सिपाही हत्याकांड में सजायाफ्ता मुजरिम छंगुरी यादव समेत तीन अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया। इस दौरान पुलिस ने उनके पास से तीन कट्टा और 7 कारतूस भी जब्त किया। वर्ष 2004 में नवगछिया में पदस्थापित एक सिपाही की ढोलबज्जा बाजार में गोली मारकर हत्या कर दी। गई थी। इस मामले में छंगुरी यादव को सजा हो गई थी। इसके बाद से वह बेल पर जेल से बाहर निकला था। लेकिन इन दिनों उसका बेल टूट गया था। माना जा रहा था कि लोकसभा चुनाव के दौरान वह दियारा क्षेत्र में वोटरों को प्रभावित कर सकता था।

गिरफ्तारी को लेकर गुरुवार को चौसा थाने में उदाकिशुनगंज के एसडीपीओ सीपी यादव ने प्रेस कांफ्रेंस किया। मौके पर उन्होंने बताया कि चौसा थानाध्यक्ष गिरफ्तार अपराधियों के बारे में जानकारी देते – एसडीपीओ, थानाध्यक्ष व अन्य। राजकिशोर मंडल ने पुलिस बल के साथ फरार चल रहे कई अपराधियों के ठिकाने पर बुधवार की देर रात विशेष छापेमारी अभियान में अलगअलग कांड की फरारी अभियुक्त भटगामा का अपराधी छंगुरी यादव को गिरफ्तार किया गया। उसपर सिपाही हत्याकांड के अलावा चौसा थाना में कई संगीन केस दर्ज हैं। वहीं भटगामा के ही नरेश यादव व शिवम कुमार को भी पकड़ा गया।

रंगदारी मांगने से मना करने पर छंगुरी ने सिपाही को मार दी थी गोली ।

बताया गया कि सिपाही सुमन मंडल ढोलबज्जा थाना में कार्यरत थे। एक दिन बाजार स्थित बस स्टैंड पर छंगुरी अपने अन्य चार साथियों के साथ वाहन चालकों से रंगदारी की मांग कर रहा था। तभी सिपाही सुमन मंडल अकेले उसे मना करने गया। इसी दौरान दिन-दहाड़े उनलोगों ने मिलकर सिपाही को गोली मार दी। आननफानन में उसे भागलपुर ले जाया जा रहा था, लेकिन विक्रमशिला पुल पर पहुंचते ही सिपाही की मौत हो गई। सिपाही सुमन मंडल गोपालपुर थाना क्षेत्र के करारी तीन टेंगा के रहने वाले थे। इस मामले में छंगूरी यादव समेत चार लोगों को नामजद कराया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *