नवगछिया रेलवे पूर्वी फाटक पर अब यात्रियों को जाम से मिलेगी निजात.,. अब जल्दी बन कर तैयार

नवगछिया के पूर्वी समपार पर रोजाना घंटों लगने वाले जाम से अब जल्द निजाद मिलेगी। लोगों को यहां एक-एक घंटे तक अब रुकने की जरूरत नहीं होगी। बिहार सरकार और रेल मंत्रालय द्वारा प्रदेश में सभी प्रस्तावित रेलवे फाटक पर बनने वाले ओवरब्रिज के निर्माण में आने वाली अड़चनों को जल्द दूर करने का निर्देश पथ निर्माण विभाग को दिया गया है जिसमें नवगछिया का भी ओवरब्रिज शामिल हैं।

नवगछिया में रेलवे पूर्वी फाटक पर 2013 में ही ओवरब्रिज की स्वीकृति मिली थी। रेलवे के टेंडर प्रक्रिया के बाद रेल के हिस्से का निर्माण कार्य शुरू किया गया था और चार पाया बनकर तैयार होने के बाद रेलवे में विद्युतीकरण कार्य होने और तकनीकी समस्याओं के कारण बिहार सरकार के पथ निर्माण विभाग में यह योजना अधर में लटक गई थी। जिससे निर्माण कार्य बाधित हो गया था। बिहार सरकार द्वारा बिहार में ऐसे सभी लंबित पड़े ओवरब्रिज निर्माण कार्य शुरू करवाने के लिए पहल तेज हो गई है। बिहार में कुल सात ओवरब्रिज जिसमें नवगछिया भी शामिल है। उसकी तकनीकी समस्याओं को दूर कर जल्द निर्माण कार्य करवाने का दिशा निर्देश जारी किया गया है।

विदित हो कि 2013 में इस ओवरब्रिज के निर्माण में कुल 22 छोटे-बड़े पाया सहित अप्रोच रोड के लिए लगभग 50 करोड़ रुपए का डीपीआर स्वीकृत किया गया था, जिसमें रेल मंत्रालय द्वारा सात करोड़ रुपए का टेंडर प्रक्रिया के बाद निर्माण कार्य शुरू किया गया था। शेष बचे कार्यां के लिए बिहार सरकार द्वारा लगभग 42 करोड़ रुपए की लागत लगनी थी। सरकार द्वारा बिहार में सभी ओवरब्रिज के निर्माण के लिए 1900 करोड़ रुपए की योजना बनाई गई है। जिसमें नवगछिया कटरिया के बीच यह ओवरब्रिज भी शामिल है।

भाजपा जिला मंत्री मुकेश राणा ने बताया कि चुनाव के बाद स्थानीय विधायक गोपाल मंडल और जिला अध्यक्ष विनोद मंडल ने वर्षों से अधूरी पड़ी इस महत्वपूर्ण योजना को सरकार के सामने रखा था। जिस पर सरकार द्वारा पहल की गयी है। बिहार सरकार द्वारा दिशा निर्देश दिया गया है कि जल्द से निर्माण कार्य में होने वाली बाधा को दूर किया जाए। इस महत्वपूर्ण मांग को पुनः प्रकिया शुरू करवाने के लिए रेल मंत्रालय और बिहार सरकार और विधायक गोपाल मंडल के प्रति आभार व्यक्त किया है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *