नवगछिया : रिंग बांध के निर्माण में किसानों की जाने वाली जमीन का अधिग्रहण शुरू -Naugachia News

नवगछिया : इस्माईलपुर से जहान्वी चौक के बीच बनने वाले रिंग बांध के निर्माण को लेकर रिंग बांध के निर्माण में किसानों की जाने वाली जमीन का जमीन अधिग्रहण को लेकर कार्रवाई शुरू कर दी गई है. जल संसाधन विभाग के द्वारा जिन किसानों की जमीन बांध में आ रही है. उन किसानों को जमीन अधिग्रहण करने के लिए नोटिस भेजनी शुरू कर दी गई है. गुरुवार को जल संसाधन विभाग के अभियंताओ की टीम ने इस्माईलपुर पहुच कर किसानों के बीच नोटिस का वितरण किया है. टीम में जल संसाधन विभाग के कनीय अभियंता अनिल कुमार और मुरारी प्रसाद के द्वारा इस्माइलपुर के केलाबारी, मनधत टोला के किसानों के बीच बांध में लिए गए जमीन का नोटिस दिया गया. इस दौरान जल संसाधन विभाग ने 40 किसानों के बीच नोटिस का वितरण किया. किसानों को अपनी जमीन को लेकर सहमति देने के लिए शपथपत्र के साथ किसानों को अपनी जमीन का भू स्वामित्व प्रमाण पत्र, अद्यतन लगान रसीद, आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक पासबुक एवं जिन लोगों जमीन में एक ही परिवार के अन्य लोग शामिल हैं तो उनका अंचल कार्यालय से निर्गत परिवारिक सदस्यता प्रमाण पत्र देना होगा. इसके बाद किसानों की जमीन के मुआवजे की राशि का भुगतान होगा.

– मार्च 2019 में ही पूरा होना था कार्य, भूमि अधिग्रहण के कारण लग गया था ब्रेक

इस्माईलपुर से जहान्वी चौक तक 33 करोड़ की लागत से 10.5 किलोमीटर रिंग बांध का निर्माण किया जाना है. वर्ष 2018 में रिंग बांध का निर्माण कार्य आरंभ किया गया था जो कि मार्च 2019 तक पूरा करने की तिथि निर्धारित की गई थी. बांध के निर्माण में भूमि अधिग्रहण का पेंच फंस जाने के कारण रिंग बांध के निर्माण में ब्रेक लगा हुआ है.

– रिंग बांध का निर्माण जल्द जिप सदस्य ने दिया था धरना

पिछले दिनों किसानों की जमीन अधिग्रहण हो एवं जमीन मुआवजा किसानों को मिले एवं जल्द से जल्द रिंग बांध का निर्माण कार्य पूरा हो इस मांग को लेकर इस्माईलपुर जिला परिषद सदस्य विपिन कुमार मंडल अनिश्चितकालीन धरना दिया था. लगातार छह दिन वे धरना पर बैठे रहे. इसके बाद मुख्य अभियंता ने जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी कर किसानों को अविलंब मुआवजा भुगतान करने एवं रिंग बांध के निर्माण कार्य मे तेजी लाने के आश्वासन पर धरना समाप्त हुआ था. इसके बाद जल संसाधन विभाग द्वारा अधिग्रहण की प्रक्रिया में तेजी लाई गई.

– रिंग बांध के निर्माण से पूरे इस्माईलपुर प्रखंड को बाढ़ से मिलेगी मुक्ति

रिंग बांध के निर्माण हो जाने से इस्माईलपुर प्रखंड के सभी पांचों पंचायत के डेढ़ लाख की आबादी सहित इस्माईलपुर प्रखंड मुख्यालय व थाना गंगा नदी के बाढ़ से पूरी से सुरक्षित हो जाएगा. इसके लावा नवगछिया अनुमंडल मुख्यालय, नवगछिया प्रखंड के खगड़ा, पकरा, लक्षणपुर आदि गांव सहित हजारों एकड़ कृषि भूमि बाढ़ से सुरक्षित हो जाएगी. रिंग बांध के निर्माण से इस्माईलपुर के बिनोवा, 519 सहित अन्य गांव का बांध के माध्यम से जहान्वी चौक तक सीधा संपर्क होगा. इस्माईलपुर के लोंगो के लिए भागलपुर जिला मुख्यालय की दूरी दस किलोमीटर काम हो जाएगी.

– नोटिस के बाद जमीन का होगा सीमांकन, शिविर लगाकर दवा आपत्ति का होगा निष्पादन

जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता अनिल कुमार ने कहा कि किसानों के बीच नोटिस वितरण शुरू कर दिया गया है. जहां तक रिंग बांध का निर्माण होना है वहां पर सीमांकन का कार्य भी किया जाएगा. किसानों की जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया जल्द पूरी हो इसके लिए शिविर भी वरीय पदाधिकारी के निर्देश पर लगेंगें. शिविर में दावा आपत्ति आवेदन भी लिए जाएंगे. दावा आपत्ति आवेदन का भी तत्काल निष्पादन होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *